• Home
  • Rajasthan News
  • Makrana News
  • भारत बंद के दौरान मकराना में जुलूस की तैयारियों को लेकर की चर्चा, दिया ज्ञापन
--Advertisement--

भारत बंद के दौरान मकराना में जुलूस की तैयारियों को लेकर की चर्चा, दिया ज्ञापन

अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले के विरोध...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 05:25 AM IST
अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले के विरोध स्वरूप भारत बंद के समर्थन में सोमवार को मकराना में भी बंद का आह्वान करते हुए आक्रोश रैली निकाली जाएगी। इसके लिए अंबेडकर भवन में अंबेडकर वेलफेयर सोसायटी व भीम सेना सहित समस्त एससी व एसटी वर्ग के लोगों की बैठक हुई। जिसमें मकराना में आक्रोश रैली के जुलूस के पूर्व तैयारियों पर चर्चा की। रैली के बारे में बहुजन समाज के लोगों ने तहसीलदार को एक ज्ञापन भी दिया एवं आक्रोश रैली के रूट चार्ट के बारे में अवगत कराया। बैठक में ओमप्रकाश कांसोटिया, बिरदाराम नायक, अनिल कुमार भाटी, गंगाराम, श्रवण तानाण, रामचंद्र, जेपी सेलवाड़, कैलाश धारू, गंगाराम अडाणिया, नरपत मेघवाल, विक्रम पिपरालिया सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

डीडवाना| अनुसूचित जाति जन जाति संघर्ष समिति के तत्वावधान में सुप्रीम कोर्ट द्वारा अनुसूचित जन जाति अत्याचार निवारण एक्ट में बदलाव के निर्णय को पुन: बदले जाने की मांग को लेकर सोमवार को भारत बंद के आह्वान पर डीडवाना बंद रहेगा। बंद को लेकर बनाई समिति ने रविवार को वाहन रैली के रूप में नगर भ्रमण कर बंद का आह्वान किया। इस दौरान समिति के पेमाराम, कालूराम मीणा, आरएल खींची, प्रवीण तेजस्वी, अनिल जावा, उगमाराम ठेकेदार, भंवरलाल बालिया, पुखराज, कमलेश, भागीरथ, झाबरमल, शिवकरण, महिपाल आदि मौजूद थे।

गच्छीपुरा| डॉ. अम्बेडकर वेलफेयर सोसायटी गच्छीपुरा के सदस्यों ने व्यापार मंडल को ज्ञापन देकर भारत बंद के आह्वान पर कस्बे में व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रख बंद में सहयोग की अपील की है। सोसायटी अध्यक्ष भंवरलाल भाटी, सुनील राठी, मदनलाल जावा, कैलाश ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अनु. जाति एवं जन जाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत जांच होने तक कार्रवाई नहीं करने के आदेश पर अनु. जाति एवं जन जाति वर्ग में रोष व्याप्त है।