Hindi News »Rajasthan »Makrana» एडीजे कोर्ट की मांग, अनशन पर बैठे वकीलों को सामाजिक संगठनों का समर्थन

एडीजे कोर्ट की मांग, अनशन पर बैठे वकीलों को सामाजिक संगठनों का समर्थन

मकराना में एडीजे कोर्ट को स्थाई करने की मांग को लेकर पिछले दो माह से अधिक समय से लगातार धरने पर बैठे अधिवक्ताओं का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 03, 2018, 05:05 AM IST

मकराना में एडीजे कोर्ट को स्थाई करने की मांग को लेकर पिछले दो माह से अधिक समय से लगातार धरने पर बैठे अधिवक्ताओं का अनशन शनिवार को भी जारी रहा। शनिवार को एक दर्जन अधिवक्ता कार्मिक अनशन पर रहे।

इस दौरान विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने भी कार्मिक अनशन का समर्थन करते हुए मकराना में स्थाई एडीजे कोर्ट की मांग की। वरिष्ठ अधिवक्ता दिलीप सिंह राठौर ने कहा कि मकराना में स्थाई एडीजे कोर्ट दो दशक पूर्व खुल जाना चाहिए था परंतु सरकार ने यहां पर स्थाई एडीजे कोर्ट अब तक नहीं खोला है जो एक चिंता का विषय है। दूसरी ओर कुछ लोग सरकार को भ्रमित कर रहे है कि मकराना में स्थाई एडीजे कोर्ट की आवश्यकता नहीं है और इसके लिए मकराना पात्र नहीं है।

वक्ताओं ने कहा कि गलत बयानबाजी करने वाले ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। इस मौके पर विजयसिंह राजपुरोहित, गणपतलाल टांक, सिकंदर खान, दिनेश सोनी, मोहम्मद उमर गैसावत, भंवराराम डूडी, खलील सिसोदिया, नूरहसन खत्री, भुवनेश टांक, अशोक सिंगोदिया, भवानीसिंह नावद, अब्दुल मजीद गैसावत, अर्जुनराम धोलिया, राममनोहर, सुरेश बरवड़, इमरान गैसावत, आबिद गौड़, जितेंद्रसिंह, नौशाद खत्री आदि मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Makrana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: एडीजे कोर्ट की मांग, अनशन पर बैठे वकीलों को सामाजिक संगठनों का समर्थन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Makrana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×