Hindi News »Rajasthan »Makrana» मकराना की ओम कॉलोनी में जलापूर्ति सुचारू कराने की मांग

मकराना की ओम कॉलोनी में जलापूर्ति सुचारू कराने की मांग

ओम कॉलोनी व नगर परिषद के वार्ड संख्या चार के नागरिकों ने शुक्रवार को उपखण्ड अधिकारी मुकेश कुमार चौधरी को ज्ञापन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 09, 2018, 05:10 AM IST

ओम कॉलोनी व नगर परिषद के वार्ड संख्या चार के नागरिकों ने शुक्रवार को उपखण्ड अधिकारी मुकेश कुमार चौधरी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि ओम कॉलोंनी में नियमित जलापूर्ति नहीं की जा रही है। कुछ घरों में तो अब तक नहर का पानी पहुंचा ही नहीं है। इसी प्रकार वार्ड चार के वाशिंदे मो. इब्राहीम ने बताया कि मोडी मस्जिद क्षेत्र के आसपास की कॉलोनी में पुरानी पाइप लाईन को चेंज कर नई पाइप लाईन बिछाने की मांग की। इस बारे में जलदाय विभाग को कई बार शिकायत की गई। विभाग द्वारा राज्य सरकार को पाइप लाईन के लिए एस्टीमेट भेजा होने का हवाला देते है। एसडीएम ने पेयजल व्यवस्था में सुधार करवाने का आश्वासन दिया। इस मौके पर मनवर अली, इरफान, शेख हारून, अयाज खान, फयाज, रामवतार, अकबर, शकील, इमरान आदि मौजूद थे।

रेण में बार-बार बिजली कटौती ने बढ़ाई परेशानी

रेण | कस्बे में बार-बार बिजली कटौती से कई उपकरण जल कर नष्ट हो गए। तेज गर्मी के चलते घरों व दुकानों में बिजली नहीं होने से कस्बेवासियों काे परेशानी हो रही है। भाजपा ग्रामीण मंडल सह संगठन मंत्री बीएल व्यास, भाजयुमो ग्रामीण मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र राजपुरोहित, भाजपा ग्रामीण मंडल उपाध्यक्ष भागीरथ, पूर्व सरपंच हेमाराम, पूर्व सरपंच भगवती रावल, पूर्व वार्ड पंच रामनिवास बेड़ा, माहेश्वरी समाज अध्यक्ष सुनील भूतड़ा, युवा सेवा समिति अध्यक्ष मोहन सिंह राजपुरोहित, सरपंच राजकंवर स्वामी, उपसरपंच कैलाश स्वामी ने जिला परिषद व कलेक्टर को पत्र लिखकर मांग की है कि डिस्कॉम की ओर से की जा रही बिजली कटौती को बंद करवाया जाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Makrana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मकराना की ओम कॉलोनी में जलापूर्ति सुचारू कराने की मांग
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Makrana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×