Hindi News »Rajasthan »Makrana» बांसड़ा में दो मोरों का गोली मार शिकार, पीछा करने पर शिकारियों ने लोगों पर बंदूक तानी, एक पुलिस के हवाले

बांसड़ा में दो मोरों का गोली मार शिकार, पीछा करने पर शिकारियों ने लोगों पर बंदूक तानी, एक पुलिस के हवाले

बांसड़ा में तीन शिकारियों ने गुरुवार रात को दो मोरों का गोली मारकर शिकार कर लिया। जाग होने पर ग्रामीणों ने पीछा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 02, 2018, 05:15 AM IST

बांसड़ा में दो मोरों का गोली मार शिकार, पीछा करने पर शिकारियों ने लोगों पर बंदूक तानी, एक पुलिस के हवाले
बांसड़ा में तीन शिकारियों ने गुरुवार रात को दो मोरों का गोली मारकर शिकार कर लिया। जाग होने पर ग्रामीणों ने पीछा किया तो शिकारियों ने उन पर भी फायरिंग करने की धमकी दी। लेकिन ग्रामीणों ने हिम्मत दिखाते हुए एक शिकारी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। उसके कब्जे से दो मोरों के शव भी बरामद किए हैं। हालांकि, उसके दो साथी भागने में कामयाब हो गए। इधर, शिकारियों पर ठोस कार्रवाई करने की मांग को लेकर बांसड़ा के ग्रामीण शुक्रवार सुबह मकराना थाने पहुंचे। उन्होंने शिकार की घटनाओं को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से कार्रवाई करने की मांग की है।

जानकारी के अनुसार गुरुवार रात करीब 2:30 बजे तीन शिकारी बाइक से बांसड़ा पहुंचे। उन्होंने दो मोरों को गोलीमार दी। इससे दोनों की मौत हो गई। फायरिंग की आवाज सुन एक परिवार के लोग जाग गए। उनके शोर मचाने पर अन्य ग्रामीण भी जाग गए। ग्रामीणों ने पीछा किया तो शिकारियों ने उन पर बंदूक तान दी और गोली मारने की धमकी देने लगे। ग्रामीणों ने हिम्मत दिखाई और एक शिकारी गुरुराम उर्फ बनवारी बनबागरिया को पकड़ लिया। उसके कब्जे से दो मोरों के शव बरामद किए हैं। उन्हें पुलिस को सौंप दिया गया। जबकि उसके दो साथी भाग गए। पुलिस ने वन विभाग के रेंजर कनक सिंह को सूचना दी। उन्होंने मोरों के शव का पोस्टमार्टम करवाया और ग्रामीणों के बयान लिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मौके पर बंकटसिंह, गजेंद्र सिंह, मोहन सिंह, बलवीर सिंह, बजरंग सिंह, उगमा राम, गोविंद सिंह, महेंद्रसिंह, अशोक कुमार, दशरथ सिंह, कान सिंह, अशोक सिंह, शिवलाल सिंह, सुखबीर सिंह, मनमोहन सिंह और घनश्याम सिंह आदि मौजूद थे।

नहीं होती सख्त कार्रवाई, इसलिए बढ़ रही घटनाएं

मोर के शिकार की घटना के विरोध में बांसड़ा के कई ग्रामीण मकराना थाने पहुंचे। उन्होंने शिकारियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने जल्द आरोपियों को पकड़ने का आश्वासन दिया। इसके बाद ग्रामीण शांत हुए। ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि बांसड़ा में मोर काफी संख्या में हैं। ग्रामीणों ने मोरों की सुरक्षा के लिए अपने स्तर पर काफी इंतजाम कर रखे हैं।

फिर भी कुछ दिन से गांव में मोरो के शिकार की घटनाएं लगातार हो रही हैं। ग्रामीणों का कहना है कि शिकार की घटनाओं को रोकने के लिए ग्रामीणों ने कई बार पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों को लिखित में शिकायत भी दी। लेकिन शिकार के दोषियों पर सख्त कार्रवाई नहीं हो पाई। इससे ग्रामीणों में रोष है। ग्रामीणों ने अब आंदोलन की चेतावनी दी है।

मकराना. मोर का शिकार करने वालों पर कार्रवाई की मांग करते हुए ग्रामीण।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Makrana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: बांसड़ा में दो मोरों का गोली मार शिकार, पीछा करने पर शिकारियों ने लोगों पर बंदूक तानी, एक पुलिस के हवाले
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Makrana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×