• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Makrana News
  • पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी
--Advertisement--

पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी

लंबे समय के बाद मकराना के लोगों को नहरी पानी मिलना शुरू हुआ है। नागौर लिफ्ट केनाल की योजना के अनुसार प्रतिदिन 122 लाख...

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 05:20 AM IST
पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी
लंबे समय के बाद मकराना के लोगों को नहरी पानी मिलना शुरू हुआ है। नागौर लिफ्ट केनाल की योजना के अनुसार प्रतिदिन 122 लाख लीटर पानी मकराना को मिल रहा है । लेकिन जलदाय विभाग के स्थानीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते शनिवार को लाखों लीटर पानी व्यर्थ ही रोड पर बह गया। एक और सरकार एक-एक बूंद जल बचाने की बात कर रही है, लोगों को जागरूक करने के लिए लाखों रुपए खर्च कर रही है। लेकिन मकराना में जलदाय विभाग के अधिकारियों के लापरवाही से मंगलाना रोड पर रानाबाई स्कूल के पास व्यर्थ में लाखों लीटर पानी बह गया। पानी बहता देख लोगों ने मौके से पीएचईडी सहायक अभियंता अशोक यादव को सूचना भी दी। लेकिन करीब चार घंटे तक भी कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। इसके बाद लोगों ने एसडीएम को इसकी जानकारी दी। जिस पर एसडीएम मुकेश कुमार चौधरी मौके पर पहुंचे और व्यर्थ बहता देख पानी को पीएचईडी के अधिशाषी अभियंता आरएल मीना को लताड़ लगाते हुए तुरंत मौके पर पहुंचकर लीकेज को सही करने के निर्देश दिए। इसके बाद कर्मचारियों ने मंगलाना रोड की तरफ मुख्य आपूर्ति लाइन को बंद किया। एसडीएम ने एईएन व एक्सईएन को इस लापरवाही के लिए जमकर लताड़ लगाई। इसके मुख्य वॉल्व में एक माह से लीकेज है। दिनभर पानी छलकते हुए व्यर्थ ही बह जाता है। दिनभर में लगातार रिसने से हजारों लीटर पानी नाली में बह जाता है। शनिवार को दोपहर 1:50 बजे लीकेज का फोटो लिया गया तो विभाग में हरकत में आया एवं विभागीय कार्मिक मो. वजीर, रूपाराम व राजू चोयल की तीन सदस्यीय टीम ने 2:15 बजे लीकेज को दुरूस्त करने का काम शुरू कर दिया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद लीकेज ठीक कर दिया गया। ऐसी ही छोटी छोटी विभागीय खामियों के कारण अब अमूल्य नहरी पानी भी विभागीय मॉनिटरिंग व सजगता के अभाव में व्यर्थ बह रहा है।

मकराना. मंगलाना रोड पर रानाबाई स्कूल के पास लीकेज से सड़क पर बहा लाखों लीटर पानी।

भास्कर संवाददाता | मकराना

लंबे समय के बाद मकराना के लोगों को नहरी पानी मिलना शुरू हुआ है। नागौर लिफ्ट केनाल की योजना के अनुसार प्रतिदिन 122 लाख लीटर पानी मकराना को मिल रहा है । लेकिन जलदाय विभाग के स्थानीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते शनिवार को लाखों लीटर पानी व्यर्थ ही रोड पर बह गया। एक और सरकार एक-एक बूंद जल बचाने की बात कर रही है, लोगों को जागरूक करने के लिए लाखों रुपए खर्च कर रही है। लेकिन मकराना में जलदाय विभाग के अधिकारियों के लापरवाही से मंगलाना रोड पर रानाबाई स्कूल के पास व्यर्थ में लाखों लीटर पानी बह गया। पानी बहता देख लोगों ने मौके से पीएचईडी सहायक अभियंता अशोक यादव को सूचना भी दी। लेकिन करीब चार घंटे तक भी कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। इसके बाद लोगों ने एसडीएम को इसकी जानकारी दी। जिस पर एसडीएम मुकेश कुमार चौधरी मौके पर पहुंचे और व्यर्थ बहता देख पानी को पीएचईडी के अधिशाषी अभियंता आरएल मीना को लताड़ लगाते हुए तुरंत मौके पर पहुंचकर लीकेज को सही करने के निर्देश दिए। इसके बाद कर्मचारियों ने मंगलाना रोड की तरफ मुख्य आपूर्ति लाइन को बंद किया। एसडीएम ने एईएन व एक्सईएन को इस लापरवाही के लिए जमकर लताड़ लगाई। इसके मुख्य वॉल्व में एक माह से लीकेज है। दिनभर पानी छलकते हुए व्यर्थ ही बह जाता है। दिनभर में लगातार रिसने से हजारों लीटर पानी नाली में बह जाता है। शनिवार को दोपहर 1:50 बजे लीकेज का फोटो लिया गया तो विभाग में हरकत में आया एवं विभागीय कार्मिक मो. वजीर, रूपाराम व राजू चोयल की तीन सदस्यीय टीम ने 2:15 बजे लीकेज को दुरूस्त करने का काम शुरू कर दिया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद लीकेज ठीक कर दिया गया। ऐसी ही छोटी छोटी विभागीय खामियों के कारण अब अमूल्य नहरी पानी भी विभागीय मॉनिटरिंग व सजगता के अभाव में व्यर्थ बह रहा है।

इनका कहना है


पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी
X
पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी
पीएचईडी की लापरवाही: लोग पानी के लिए रात को भी लाइनों में, यहां व्यर्थ बहा दिया लाखों लीटर पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..