Hindi News »Rajasthan »Makrana» अनदेखी| भूख हड़ताल का तीसरा दिन, प्रशासन ने नहीं ली सुध

अनदेखी| भूख हड़ताल का तीसरा दिन, प्रशासन ने नहीं ली सुध

मकराना उपखण्ड के गांव कालवा छोटा में पिछले तीन दिनों से दो युवा एससी-एसटी बिल को पास करके 9वीं अनुसूची में डालने,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 12, 2018, 05:25 AM IST

मकराना उपखण्ड के गांव कालवा छोटा में पिछले तीन दिनों से दो युवा एससी-एसटी बिल को पास करके 9वीं अनुसूची में डालने, स्पेशल कम्पोनेंट प्लान व पिछड़ी जातियों के आरक्षण को संख्या के आधार पर देने की मांग को लेकर अखिल भारतीय अम्बेडकर महासभा के बैनर तले भूख हड़ताल पर बैठे है, मगर प्रशासन की तीन दिनों के बाद भी आमरण अनशन पर बैठे युवाओं की कोई सुध नहीं ली गई। वहीं शनिवार को युवकों के साथ गांव के कई परिवार भी जुड़े। आमरण अनशन पर बैठे जेपी सेलवाड़ ने बताया कि उनके संगठन ने अपनी जायज मांगों को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पहले ही अवगत करवा दिया था तथा आमरण अनशन शुरू करने से पहले उन्होंने प्रधानमंत्री के नाम एसडीएम मकराना को ज्ञापन सौंपा था। उन्होंने बताया कि अपने अधिकारी को रक्षा के लिए हमें संघर्ष करना पड़ रहा है। इस अवसर पर कन्हैया लाल, रामचन्द्र मलिण्डा, देवाराम, ओम पाटोदिया, भंवर लाल नायक, जीवणा राम, पूसाराम बावरी, भैरू खां, छोटूराम, बोदू खां, चैनाराम, श्यामलाल, जवाना राम, कंवरी देवी, शांति देवी, राघवेंद्रसिंह, देवीलाल सहित अनेक लोग मौजूद थे।

छोटी खाटू | कस्बे के गंगामाता आश्रम में 8 अगस्त से अखिल भारतीय अंबेडकर महासभा की ओर से अनेक मांगो को लेकर किया जाने वाला आंदोलन शनिवार को जारी रहा। मंगलवार को अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर बैठे सुरेंद्र मेघवाल, प्रकाश मेघवाल, राजेंद्र मेघवाल, भूपेंद्र मेघवाल आदि ने बताया कि दलितों पर लगातार अत्याचार हो रहे है। उन्होंने कहा कि हमारा आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार मांगे नहीं मानती। इस मौके पर पूर्व सरपंच कल्याणसिंह, संपत सिंह, भंवरलाल कामड़, राजूराम मेघवाल, भंवरलाल, पप्पूराम, रूपाराम, मुन्नालाल, सुरेश, लेखराज, नवीन, घींसाराम रेगर, दीपक नवल, जितेंद्र, राजेश, मदन, नाथीदेवी, सोनी देवी, मैना देवी, संतोष देवी सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Makrana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×