• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Makrana News
  • सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
--Advertisement--

सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं

कुम्हार समाज सेवा समिति के तत्वावधान में कुम्हार समाज का मकराना तहसील स्तरीय पहला प्रतिभा सम्मान समारोह रविवार...

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 05:45 AM IST
सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
कुम्हार समाज सेवा समिति के तत्वावधान में कुम्हार समाज का मकराना तहसील स्तरीय पहला प्रतिभा सम्मान समारोह रविवार को मंगलाना रोड स्थित हाजरा पार्क में आयोजित हुआ। श्रीयादे मां की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान मुख्य अतिथि जेडीयू पार्टी के राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष दौलतराम पेंसिया ने कहा कि जिस दिशा व दशा में फायदा नहीं हो उसे तुरंत बदल देना चाहिए। कुम्हार समाज सहित मूल ओबीसी वर्ग को सरकार की गलत नीतियों के कारण आरक्षण का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसके लिए सभी को एकजुट होना होगा। इसी प्रकार विशिष्ट अतिथि भाजपा प्रदेश मंत्री सरोज प्रजापत ने बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने एवं समाज में एकजुटता रखने की बात कही। भाजपा ओबीसी मोर्चा के नागौर जिलाध्यक्ष डॉ. राजाराम प्रजापति, प्रजापति युवा शक्ति संगठन के प्रदेशाध्यक्ष नारायण प्रजापति, प्रधानाचार्य गोपाल प्रजापत, प्रजापत समाज की महिला प्रदेशाध्यक्ष आरती प्रजापति, युवा क्रांतिकारी नेता बलवंत निमीवाल, राष्ट्रीय कराटे खिलाड़ी संगीता कुमारी, अधिशाषी अधिकारी किशनलाल कुमावत, डीएसपी प्रदेशाध्यक्ष शिव भगवान सारड़ीवाल, परबतसर अध्यक्ष भंवरलाल भोभरिया ने भी संबोधित किया। समाजसेवी रूपनारायण प्रजापत ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

समारोह | मकराना में कुम्हार समाज का तहसील स्तरीय पहला प्रतिभा सम्मान समारोह, संगठित होने का किया आह्वान, जेडीयू पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष पेंसिया बोले-

वक्ताओं के भाषण के बाद छात्रा बोलीं, नारी शिक्षित होगी तो ही विकास

कार्यक्रम में मौजूद 11वीं कक्षा की छात्रा दीपशिखा पुत्री मनोज कुमार प्रजापत वक्ताओं के विभिन्न मत व बातें सुनने के बाद खुद को मंच पर आने से नहीं रोक सकी। उसने फर्राटेदार व ओजस्वी भाषण देते हुए कहा कि नारी शिक्षित होगी तभी समाज व देश विकसित होगा। अब समाज में रूढि़वादिता की सोच बदलनी होगी एवं समय के साथ चलना होगा। लड़कियों को उच्च शिक्षित करें एवं घर परिवार में शिक्षा का माकूल वातावरण बच्चों को देना का प्रयास करें।

समारोह में 135 प्रतिभाओं का किया सम्मान, दिए स्मृति चिन्ह

समाज के 135 प्रतिभावान विद्यार्थियों का कार्यक्रम में प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया। इस अवसर पर रामूराम सिहोटा कुचामन, मोहनलाल ग्रामसेवक, डॉ. प्रदीप सिहोटा, पांचाराम प्रजापत डेगाना, किशनलाल प्रजापत यूडीसी, कुम्हार समाज के अध्यक्ष लक्ष्मण प्रजापत, छिगनलाल सिहोटा, किशनलाल नांदोली, नानूराम प्रजापत, रामकरण कारगवाल, मिश्रीलाल बोरावड़, अजय कुमार प्रजापत, भंवरलाल मंडावरिया, कैलाश कारगवाल, भंवरलाल कारगवाल, रामूराम गुणावती, नानूराम किरोड़ीवाल, दयाल प्रजापत, रामूराम आसरवा, दुर्गाशंकर प्रजापत, भंवरलाल सिहोटा, कानाराम प्रजापत, विकास प्रजापत, राजेन्द्र प्रजापत, राधेश्याम प्रजापत, भंवरलाल सोकल, गुलाबचंद प्रजापत, अमरचंद प्रजापत, कार्यक्रम संयोजक बद्रीप्रसाद प्रजापत, समिति अध्यक्ष रामदेव प्रजापत, उपाध्यक्ष ताराचंद घोड़ेला, महासचिव पूरणमल, कोषाध्यक्ष अमरचंद नोखवाल, संगठन मंत्री किशनलाल, प्रचारमंत्री बाबूलाल गेदर, मूलाराम कुचेरिया सहित कुम्हार समाज के अनेक लोग मौजूद थे। कार्यक्रम में कांग्रेस जिलाध्यक्ष जाकिर हुसैन गैसावत भी आए।

डीडवाना में मेघवाल समाज का प्रतिभा सम्मान समारोह, 292 प्रतिभाएं सम्मानित

डीडवाना| समाज में जागृति लाने एवं समाज को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिभाओं को तरासना जरूरी हैं और प्रतिभाएं तभी आगे बढ़ेगी जब उन्हें हम प्रोत्साहित करेंगे। यह बात डॉ. अंबेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी के तत्वावधान में मेघवाल समाज विकास संस्थान भवन परिसर में आयोजित समाज के प्रतिभा सम्मान समारोह के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में एडीएम बीएल मीणा ने कही। उन्होंने कहा कि समाज के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा हैं और समाज को आगे बढ़ाना है तो प्रतिभाओं की पहचान करने के साथ-साथ समाज में फैली हुई कुरीतियों को मूल जड़ से हटाना होगा और यह तभी संभव होगा जब हम समाज के प्रत्येक व्यक्ति को शिक्षित करेंगे। शिक्षित समाज ही राष्ट्र के उत्थान में भागीदारी निभा सकता हैं। मीणा ने कहा कि आज देखते है कि समाज में पुरानी कुरीतियों को लागू किया जाता है जो समाज के लिए एक कलंक हैं, जब तक हम इनसे दूर नही रहेंगे तब तक समाज आगे नहीं बढ़ेगा और इन सब के लिए महिला शिक्षा को बढ़ावा देना भी वर्तमान समय की मांग हैं। इस मौके पर मंत्री यूनुस खान के ओएसडी बीएल भाटी ने कहा कि वर्तमान युग कम्प्यूटर का युग है और इस कम्प्यूटर प्रणाली में हम सब का दायित्व बनाता है कि हर घर से कम्प्यूटर इंजीनियर तैयार हो क्योंकि आने वाला युग इसी प्रणाली का होगा और कम्प्यूटर के बगैर शिक्षित व्यक्ति का जीवन भी अधूरा हैं। इस दौरान सानिवि के अधीक्षण अभियन्ता आरडी बुनकर, वाटर शेड विभाग के अतिरिक्त निर्देशक सीताराम बंजारा, प्रधानाचार्य जगदीश चावला, बुद्धाराम गरवा, डॉ. सीपी नागौरा आदि ने भी संबोधित किया। इस मौके पर समाज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं सहित उन प्रतिभाओं का भी सम्मान किया गया जिनका हाल ही में राजकीय सेवाओं में चयन हुआ हैं। इस अवसर पर समाज के कुल 292 प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर किया। कार्यक्रम का संचालन एबीईईओ हेमाराम रोहलन व घीसाराम खींची ने किया।

डीडवाना| समाज में जागृति लाने एवं समाज को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिभाओं को तरासना जरूरी हैं और प्रतिभाएं तभी आगे बढ़ेगी जब उन्हें हम प्रोत्साहित करेंगे। यह बात डॉ. अंबेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी के तत्वावधान में मेघवाल समाज विकास संस्थान भवन परिसर में आयोजित समाज के प्रतिभा सम्मान समारोह के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में एडीएम बीएल मीणा ने कही। उन्होंने कहा कि समाज के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा हैं और समाज को आगे बढ़ाना है तो प्रतिभाओं की पहचान करने के साथ-साथ समाज में फैली हुई कुरीतियों को मूल जड़ से हटाना होगा और यह तभी संभव होगा जब हम समाज के प्रत्येक व्यक्ति को शिक्षित करेंगे। शिक्षित समाज ही राष्ट्र के उत्थान में भागीदारी निभा सकता हैं। मीणा ने कहा कि आज देखते है कि समाज में पुरानी कुरीतियों को लागू किया जाता है जो समाज के लिए एक कलंक हैं, जब तक हम इनसे दूर नही रहेंगे तब तक समाज आगे नहीं बढ़ेगा और इन सब के लिए महिला शिक्षा को बढ़ावा देना भी वर्तमान समय की मांग हैं। इस मौके पर मंत्री यूनुस खान के ओएसडी बीएल भाटी ने कहा कि वर्तमान युग कम्प्यूटर का युग है और इस कम्प्यूटर प्रणाली में हम सब का दायित्व बनाता है कि हर घर से कम्प्यूटर इंजीनियर तैयार हो क्योंकि आने वाला युग इसी प्रणाली का होगा और कम्प्यूटर के बगैर शिक्षित व्यक्ति का जीवन भी अधूरा हैं। इस दौरान सानिवि के अधीक्षण अभियन्ता आरडी बुनकर, वाटर शेड विभाग के अतिरिक्त निर्देशक सीताराम बंजारा, प्रधानाचार्य जगदीश चावला, बुद्धाराम गरवा, डॉ. सीपी नागौरा आदि ने भी संबोधित किया। इस मौके पर समाज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं सहित उन प्रतिभाओं का भी सम्मान किया गया जिनका हाल ही में राजकीय सेवाओं में चयन हुआ हैं। इस अवसर पर समाज के कुल 292 प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर किया। कार्यक्रम का संचालन एबीईईओ हेमाराम रोहलन व घीसाराम खींची ने किया।

लाडनूं में एक करोड़ की लागत से बनेगा रैगर समाज का भवन, 15 अगस्त को सुबह 11.15 बजे होगा शिलान्यास

लाडनूं| रैगर समाज के नए भवन का निर्माण कार्य 15 अगस्त को सुबह 11.15 बजे से शिलान्यास कार्यक्रम के साथ ही शुरू किया जाएगा। रैगर समाज का यह नया भवन एक करोड़ की लागत से बनेगा, जिसकी समस्त धनराशि अमेरिका प्रवासी भामाशाह भंवरलाल नवल द्वारा प्रदत्त की जाएगी। समाज के भवन का निर्माण कार्य शुरू किए जाने को लेकर आयोजित की गई रैगर समाज भवन निर्माण समिति की बैठक में यह तय किया गया। समिति द्वारा भवन निर्माण कार्य के लिए ठेकेदार बंशीलाल भाटी डीडवाना को नियुक्त किया गया।

बैठक में कुम्भाराम मौर्य, जाला राम मौर्य पटवारी, भगवानाराम तुनगरिया पटवारी, खीयाराम फुल वाडिया, सुखाराम तुनगरिया, शांतिलाल फुलवारिया, पूनमचंद तुनगरिया, रावता राम नवल, मदनलाल पटवारी, रामसिंह रेगर, हनुमान प्रसाद फुलवारिया, रामकरण सबलानिया, रामलाल धौलपुरिया, प्रकाशचंद मौर्य, नरेश तुनगरिया, भागीरथ धौलपुरिया सहित कई लोग मौजूद रहे।

सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
X
सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
सरकार की गलत नीतियों से मूल ओबीसी वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..