• Home
  • Rajasthan News
  • Makrana News
  • होशियारपुर से नगर कीर्तन रथ 13वें दिन पहुंचा मकराना, पुष्पवर्षा से स्वागत
--Advertisement--

होशियारपुर से नगर कीर्तन रथ 13वें दिन पहुंचा मकराना, पुष्पवर्षा से स्वागत

सिख संप्रदाय के तत्वावधान में भारत भ्रमण पर निकला नगर कीर्तन रथ बुधवार सुबह 11 बजे मकराना पहुंचा। रथ में गुरु ग्रंथ...

Danik Bhaskar | Aug 09, 2018, 05:55 AM IST
सिख संप्रदाय के तत्वावधान में भारत भ्रमण पर निकला नगर कीर्तन रथ बुधवार सुबह 11 बजे मकराना पहुंचा। रथ में गुरु ग्रंथ साहब को विराजित किया हुआ था। जबकि रथ के साथ सांप्रदायिक भाईचारे व सौहार्द का संदेश देते एवं धर्म के प्रति निष्ठा से जुड़े संदेश देती झांकियां सजाई हुई थी। रथ के साथ में गाड़ियों का काफिला था। जिसमें 500 सेवादारों का जत्था शामिल था। रथ के बाइपास तिराहा पहुंचने पर सेवादार हाथ में तलवारें लिए पैदल ही रथ के आगे चलने लगे एवं वहां से सीधे गुरुद्वारा पहुंचे। वहां पर शहर के सभी धर्मों से जुड़े नागरिकों ने यात्रा में शामिल लोगों का अभिनंदन किया एवं लंगर में उन्हें प्रसाद ग्रहण करवाते हुए सेवा की। इस बीच 25 सेवादारों ने तलवारों से करतब दिखाए। मकराना के गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी से जुड़े रणजीत सिंह बराड़ ने बताया कि गत 26 जुलाई को बाबा निधान सिंह हुजूर साहब वाले के जन्म स्थान नडालो-होशियारपुर से नगर कीर्तन रथ ने प्रस्थान कर धर्मयात्रा आगरा, भोपाल, बुरहानपुर होते हुए 5 अगस्त को (अजोट साहब) नांदेड़ पहुंची। नांदेड़ से धर्मयात्रा वापस नडालो-होशियारपुर के लिए रवाना हुई जो कि गुजरात के मनवाड़, बड़ौदा तथा भीलवाड़ा होते हुए बुधवार को मकराना पहुंची। धर्मयात्रा के मकराना पहुंचने पर यात्रा में शामिल सभी यात्रियों का गुरुद्वारा कमेटी के बाबा ईशर सिंह सहित स्थानीय नागरिक रणजीत सिंह बराड़, जसबीर सिंह खालसा, श्यामसुंदर रांदड़, श्यामसुंदर स्वामी, कैलाशचंद काबरा, त्रिलोक चंद सैनी, राजेंद्र व्यास, सूरजपाल बड़त्या, बजरंग सिंह मण्डोवरी, गंगाराम मेघवाल, कयूम फिरकिया सहित दर्जनों लोगों ने पुष्पवर्षा करते हुए यात्रा की अगवानी की। इस दौरान लोगों ने रथ में विराजित गुरु ग्रंथ साहब के दर्शन करते हुए अरदास की। अल्प विश्राम के बाद यात्रा वापस सड़क मार्ग से मंगलाना होते हुए सिरसा के लिए रवाना हो गई। रवानगी से पूर्व यात्रा में शामिल बलबीर सिंह खेड़ेवाले, त्रिलोक सिंह, संत बलबीर सिंह होशियारपुर, टुकवाल सिंह खेड़ा तथा जसवीर सिंह भट्टी सहित अन्य लोगों काे गुरुद्वारा समिति की ओर से दुपट्टा ओढ़ाकर विदाई दी गई। बराड़ ने बताया कि नगर कीर्तन रथ यात्रा का समापन 9 अगस्त की शाम को अमृतसर में होगा। इस दौरान वहां पर महा कीर्तन का आयोजन भी किया जाएगा।

मकराना. रथ यात्रा के साथ मौजूद सेवादार।