• Hindi News
  • Rajasthan
  • Mala Kheda
  • उपद्रव से नहीं शांति से सरकार व प्रशासन के सामने मांगें रखनी चाहिएं : जितेंद्र सिंह
--Advertisement--

उपद्रव से नहीं शांति से सरकार व प्रशासन के सामने मांगें रखनी चाहिएं : जितेंद्र सिंह

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 05:40 AM IST

Mala Kheda News - एससी-एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट द्वारा किए गए बदलाव से समाज व्यथीत न हो और भारत बंद जैसी घटनाओं की पुनरावृति से...

उपद्रव से नहीं शांति से सरकार व प्रशासन के सामने मांगें रखनी चाहिएं : जितेंद्र सिंह
एससी-एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट द्वारा किए गए बदलाव से समाज व्यथीत न हो और भारत बंद जैसी घटनाओं की पुनरावृति से बचें। अपनी मांगों को शांतिपूर्ण तरीके से सरकार व प्रशासन के सामने रखनी चाहिए। यह विचार रविवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने अलवर से राजगढ़ जाते समय मालाखेड़ा कस्बे में किए गए स्वागत समारोह के बीच उपस्थित जनसमूह से कही।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव बनने पर रविवार को मालाखेड़ा ब्लॉक अध्यक्ष हिम्मत सिंह चौधरी के नेतृत्व में लीलावती पब्लिक स्कूल पर स्वागत किया गया। स्वागत समारोह में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष टीकाराम जूली, कृष्ण मुरारी गंगावत, पूर्व विधायक शीला मीणा, नरेंद्र मीणा, समाजसेवी प्रेम पटेल, पूर्व प्रधान शिव लाल गुर्जर, पूर्व प्रधान शम्मा खान, सरपंच विश्राम गुर्जर, इंदरमल गुर्जर, संपत चौधरी, रतिराम बैरवा, मास्टर मूलचंद चौधरी, बच्चू चौधरी, जगत सिंह चौधरी, रामचंद्र मीणा सहित सैकड़ों कांग्रेसी मौजूद थे।

उपद्रव में मारे गए पवन के परिजनों से मिले पूर्व केंद्रीय मंत्री

अलवर. खैरथल के झाड़ोली गांव में मृतक के परिजनों से िमलते पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर िजतेंद्र िसंह।

अलवर| खैरथल में 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान उपद्रव में मारे गए झाड़ोली निवासी पवन के परिजनों से पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने मुलाकात की। इस दौरान सिंह ने घटना को दुखद बताते हुए परिजनों को सांत्वना दी। इसके बाद जितेंद्र सिंह ने खैरथल मंडी में पहुंचकर 2 अप्रैल को बंद के दौरान हुर्इ तोड़फोड़ व नुकसान का जायजा व्यापारियों से मिलकर लिया। इसके बाद कस्बे के दलितों से भी मुलाकात की। इस दौरान जितेंद्र सिंह के साथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष टीकाराम जूली, कृष्ण मुरारी गंगावत, राजू यादव, कांग्रेस जिला महासचिव गिरीश डाटा, फतेह मोहम्मद सहित अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे। इधर मृतक पवन से मिलने के लिए जदयू के प्रदेशाध्यक्ष रामनिवास यादव, राष्ट्रीय सचिव चंद्रशेखर यादव, राजेश शर्मा ने मुलाकात की। उन्होंने सरकार से मृतक के परिजनों को पांच लाख रुपए मुआवजा व सरकारी नौकरी देने तथा राजस्थान में दलितों की गिरफ्तारी में निष्पक्ष आयोग द्वारा जांच कराने की मांग की। वहीं बसपा के प्रदेश प्रभारी सुमरतसिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल पवन के परिजनों से मिला। प्रतिनिधिमंडल में भगवान सिंह बाबा, जगदीश प्रसार मेहरा, जितेंद्र सैनी, रामचंद्र वर्मा मौजूद थे।

X
उपद्रव से नहीं शांति से सरकार व प्रशासन के सामने मांगें रखनी चाहिएं : जितेंद्र सिंह
Astrology

Recommended

Click to listen..