Hindi News »Rajasthan News »Mandal News» अवैध संबंध छिपाने के लिए हत्या, आरोपी व महिला साथी गिरफ्तार Rs. 50 का वह नोट भी मिला जो आरोपी ने बालक नरेंद्र को दिया था

अवैध संबंध छिपाने के लिए हत्या, आरोपी व महिला साथी गिरफ्तार Rs. 50 का वह नोट भी मिला जो आरोपी ने बालक नरेंद्र को दिया था

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:50 AM IST

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा/ मांडल मलगाणी के ग्यारह वर्षीय बालक नरेंद्रकुमार की हत्या के आरोप में मांडल पुलिस...
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा/ मांडल

मलगाणी के ग्यारह वर्षीय बालक नरेंद्रकुमार की हत्या के आरोप में मांडल पुलिस ने गुरुवार को आरोपी और उसकी महिला साथी को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या अवैध संबंध उजागर हो जाने की आशंका में की गई थी। दैनिक भास्कर ने बुधवार को ही खबर में मामले का खुलासा कर दिया था। इसमें बताया था कि आरोपी ने छात्र को पहले बहलाते हुए 50 रुपए देकर खेत पर भेजा। वहां जाकर हत्या कर दी और शव कुएं में फेंका।

मांडल एसएचओ दिनेशकुमार ने बताया कि मलगाणी गांव के ही रामेश्वरलाल व महिला साथी रामकन्या को लापता छात्र नरेंद्र पुत्र शंभुलाल की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया। मंगलवार रात करीब 10 बजे तक नरेंद्र का पता नहीं चला तब परिजनों ने मांडल थाने पर रिपोर्ट दी। इस पर सब इंस्पेक्टर दातारसिंह के नेतृत्व में एएसआई साबिर मोहम्मद व कांस्टेबल राजेश सालवी की विशेष टीम बनाई। टीम ने ग्रामीणों के साथ मिलकर रातभर छात्र की तलाश की, लेकिन पता नहीं चला। टीम ने नरेंद्र के हमउम्र बच्चों से बात की। इसमें सामने आया कि नरेंद्र ने उन्हें ताऊ को टिफिन देकर आने के बाद एक बात बताने के लिए बोला था, लेकिन इसके बाद वह नहीं लौटा। बच्चों की बातों से पुलिस को हत्या अवैध संबंध के कारण कर देने का संदेह हुआ। पुलिस को पता चला कि जब ग्रामीण रातभर नरेंद्र को तलाश रहे थे, उस वक्त आरोपी घर में सो रहा था। देर सुबह तक भी घर से नहीं निकलने पर पुलिस का संदेह पुख्ता हो गया। थाने लाकर पूछताछ में उसने गुनाह कबूल कर लिया।

पिता घर में लाए थे मिठाई, नरेंद्र के पांच गुलाब जामुन अलग रखे जो पड़े रह गए

1 फरवरी काे प्रकाशित

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा/ मांडल

मलगाणी के ग्यारह वर्षीय बालक नरेंद्रकुमार की हत्या के आरोप में मांडल पुलिस ने गुरुवार को आरोपी और उसकी महिला साथी को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या अवैध संबंध उजागर हो जाने की आशंका में की गई थी। दैनिक भास्कर ने बुधवार को ही खबर में मामले का खुलासा कर दिया था। इसमें बताया था कि आरोपी ने छात्र को पहले बहलाते हुए 50 रुपए देकर खेत पर भेजा। वहां जाकर हत्या कर दी और शव कुएं में फेंका।

मांडल एसएचओ दिनेशकुमार ने बताया कि मलगाणी गांव के ही रामेश्वरलाल व महिला साथी रामकन्या को लापता छात्र नरेंद्र पुत्र शंभुलाल की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया। मंगलवार रात करीब 10 बजे तक नरेंद्र का पता नहीं चला तब परिजनों ने मांडल थाने पर रिपोर्ट दी। इस पर सब इंस्पेक्टर दातारसिंह के नेतृत्व में एएसआई साबिर मोहम्मद व कांस्टेबल राजेश सालवी की विशेष टीम बनाई। टीम ने ग्रामीणों के साथ मिलकर रातभर छात्र की तलाश की, लेकिन पता नहीं चला। टीम ने नरेंद्र के हमउम्र बच्चों से बात की। इसमें सामने आया कि नरेंद्र ने उन्हें ताऊ को टिफिन देकर आने के बाद एक बात बताने के लिए बोला था, लेकिन इसके बाद वह नहीं लौटा। बच्चों की बातों से पुलिस को हत्या अवैध संबंध के कारण कर देने का संदेह हुआ। पुलिस को पता चला कि जब ग्रामीण रातभर नरेंद्र को तलाश रहे थे, उस वक्त आरोपी घर में सो रहा था। देर सुबह तक भी घर से नहीं निकलने पर पुलिस का संदेह पुख्ता हो गया। थाने लाकर पूछताछ में उसने गुनाह कबूल कर लिया।

पिता शंभुलाल मंगलवार को बच्चों के लिए गुलाबजामुन लाए थे। परिवार के लोग नरेंद्र के ताऊ को टिफिन देकर लौटने का इंतजार कर रहे थे। काफी देर तक नहीं आया तब उन्होंने घर से बाहर आकर कई आवाज लगाई। फिर भी नहीं आया तब उसके हिस्से के पांच गुलाबजामुन अलग रख दिए थे। घटना के तीसरे दिन गुरुवार को भी वह मिठाई घर पर कटोरी में पड़ी थी। बड़े भाई ने बताया कि मां सभी बच्चों को खाना खिलाकर ही स्वयं खाती है। मंगलवार को नरेंद्र नहीं आया तो मां ने खाना भी नहीं खाया। लगातार भूखा रहने से उसकी हालत बिगड़ गई।

रामेश्वर 5 दिन से नरेंद्र को ठिकाने लगाने की फिराक में था ...आरोपी रामेश्वर पांच दिन से मौका देख रहा था कि कब नरेंद्र रात के वक्त अकेला मिले और वह अपनी योजना को मूर्त रूप दे। मंगलवार देर शाम 7 बजे वह तलाशते हुए नरेंद्र के पास पहुंचा। उसे 50 रुपये का लालच देकर खेत की तरफ लेकर गया, जहां गला दबाकर हत्या कर दी। रामेश्वर ने नरेंद्र का शव गोपाल भील के कुएं में डाल दिया ताकि शक की सुई उसकी तरफ न रहे और गोपाल पर संदेह हो।

मां को रात में नहीं बताया, सुबह शव घर ले गए तो बिगड़ी तबीयत... नरेंद्र का बुधवार शाम शव मिल गया था। मां को गुरुवार सुबह तक इसकी जानकारी नहीं थी। सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव घर ले जाया गया। दाह-संस्कार के लिए रवाना हुए तब परिवार के लोगों की चीत्कार फूट पड़ी। मां यह दृश्य देखकर बेसुध हो गई। उसका उपचार जारी है।

रोज 10-20 रुपए देकर चुप रहने की कहता था... सहाड़ा एएसपी प्रेरणा शेखावत व मांडल सीओ चंचल मिश्रा ने आरोपी रामेश्वर के साथ वारदात स्थल का निरीक्षण किया। आरोपी ने बताया कि वह रोज नरेंद्र को 10-20 रुपए देकर कहता था कि यह बात किसी को नहीं बताने की कहता था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mandal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: अवैध संबंध छिपाने के लिए हत्या, आरोपी व महिला साथी गिरफ्तार Rs. 50 का वह नोट भी मिला जो आरोपी ने बालक नरेंद्र को दिया था
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Mandal

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×