• Home
  • Rajasthan News
  • Mandal News
  • नाबालिगों को दिलाए सात फेरे धोक लगाने पहुंचे गोवटा माता
--Advertisement--

नाबालिगों को दिलाए सात फेरे धोक लगाने पहुंचे गोवटा माता

मांडलगढ़ | पुलिस व प्रशासन बाल विवाह पर पाबंदी लगाने का दावा कर रहे हैं, लेकिन बाल विवाह रुक नहीं रहे हैं। बाल विवाह...

Danik Bhaskar | Apr 30, 2018, 04:50 AM IST
मांडलगढ़ | पुलिस व प्रशासन बाल विवाह पर पाबंदी लगाने का दावा कर रहे हैं, लेकिन बाल विवाह रुक नहीं रहे हैं। बाल विवाह की हकीकत यह तस्वीर बता रही है। रविवार को दो नाबालिग जोड़े परिणय सूत्र में बंधने के बाद धोक लगाने गोवटा माता मंदिर पहुंचे। नाबालिग जोड़ों ने माता के दर्शन कर सुखी दांपत्य जीवन की कामना की। विदित रहे कि जोगणिया माता, कालाजी बावजी धार्मिक स्थल पर पहले भी नाबालिग जोड़े धोक लगाने पहुंचे थे। नाबालिग विवाह बंधन में बंध रहे हैं, लेकिन प्रशासन बाल विवाह रोकने में नाकाम रहा है।

बालिग होने में दो महीने कम होने से रुकवाया बाल विवाह

जहाजपुर | परिवार में बेटी के ब्याह की तैयारी चल रही थी। शिकायत पर पुलिस पहुंची तो परिजनों ने बेटी के बालिग होने का दावा किया। रिकॉर्ड खंगाला में वह नाबालिग निकली। बालिग होने में दो महीने बाकी होने पर पुलिस ने विवाह रुकवा व माता-पिता को पाबंद किया। पुलिस ने बताया कि सरसिया में गोपाल पुत्र किशन मीणा व प|ी लाली मीणा नाबालिग पुत्री का विवाह बाजटा निवासी काजोल पुत्र अशोक के साथ करने वाले थे।