Hindi News »Rajasthan »Mandal» मुख्य सचेतक का घेराव, गाड़ी के आगे बैठे लोग

मुख्य सचेतक का घेराव, गाड़ी के आगे बैठे लोग

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा मांडल एसडीएम छोटूलाल शर्मा व बीडीओ गिरिराज मीणा के बीच पीथास पंचायत मुख्यालय पर...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 05:10 AM IST

मुख्य सचेतक का घेराव, गाड़ी के आगे बैठे लोग
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

मांडल एसडीएम छोटूलाल शर्मा व बीडीओ गिरिराज मीणा के बीच पीथास पंचायत मुख्यालय पर न्याय आपके द्वार शिविर के दौरान हुए विवाद ने सोमवार को तूल पकड़ लिया। सर्व समाज व शिव सेना के बैनर तले सोमवार को मांडल के लोगों ने एसडीएम शर्मा के समर्थन में मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर का घेराव किया। गुर्जर को उनके निवास पर जाकर दिए ज्ञापन में लोगों ने बीडीओ को हटाने की मांग भी की।

इस दौरान पहले तो मुख्य सचेतक गुर्जर ने बीडीओ मीणा की गलती होने पर उन्हें मांडल से हटाने की बात कह दी थी। लेकिन कुछ देर बाद उन्होंने गलती होने पर दोनों ही अफसरों को हटाने की कहा तो लोग भड़क गए। वे गुर्जर के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। गुर्जर जब गाड़ी में जाने लगे तो लोग गाड़ी के आगे खड़े हो गए। दो लोग तो उनकी गाड़ी के आगे बैठ गए। गुर्जर की गाड़ी के ड्राइवर के कई बार हॉर्न बजाने के बावजूद वे गाड़ी के सामने से नहीं हटे। आखिरकार पुलिस ने लोगों को हटाया तब गुर्जर जा सके। लोगों ने कलेक्टर शुचि त्यागी को भी एसडीएम के समर्थन में ज्ञापन दिया।

मुख्य सचेतक की गाड़ी के आगे विरोध जताते लोगों को उठाते हुए।

बीडीओ पर लगाए आरोप ... मुख्य सचेतक गुर्जर को दिए ज्ञापन में लोगों ने अारोप लगाया कि बीडीओ ने एसडीएम पर गलत आरोप लगाकर उनकी छवि खराब की। एसडीएम ने बीडीओ को शिविर में रहकर इधर-उधर नहीं जाने की बात कही तो बीडीओ ने अभद्र भाषा का प्रयोग किया। इसलिए बीडीओ को मांडल से हटाकर दूसरे स्थान पर भेजा जाए।

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

मांडल एसडीएम छोटूलाल शर्मा व बीडीओ गिरिराज मीणा के बीच पीथास पंचायत मुख्यालय पर न्याय आपके द्वार शिविर के दौरान हुए विवाद ने सोमवार को तूल पकड़ लिया। सर्व समाज व शिव सेना के बैनर तले सोमवार को मांडल के लोगों ने एसडीएम शर्मा के समर्थन में मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर का घेराव किया। गुर्जर को उनके निवास पर जाकर दिए ज्ञापन में लोगों ने बीडीओ को हटाने की मांग भी की।

इस दौरान पहले तो मुख्य सचेतक गुर्जर ने बीडीओ मीणा की गलती होने पर उन्हें मांडल से हटाने की बात कह दी थी। लेकिन कुछ देर बाद उन्होंने गलती होने पर दोनों ही अफसरों को हटाने की कहा तो लोग भड़क गए। वे गुर्जर के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। गुर्जर जब गाड़ी में जाने लगे तो लोग गाड़ी के आगे खड़े हो गए। दो लोग तो उनकी गाड़ी के आगे बैठ गए। गुर्जर की गाड़ी के ड्राइवर के कई बार हॉर्न बजाने के बावजूद वे गाड़ी के सामने से नहीं हटे। आखिरकार पुलिस ने लोगों को हटाया तब गुर्जर जा सके। लोगों ने कलेक्टर शुचि त्यागी को भी एसडीएम के समर्थन में ज्ञापन दिया।

शिव सेना ने दी बंद की चेतावनी ... शिव सेना के तहसील संयोजक सांवरमल शर्मा के नेतृत्व में भी मुख्य सचेतक गुर्जर को ज्ञापन दिया। गुर्जर ने उन्हें दो दिन में दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस पर कार्यकर्ताओं ने कहा कि दो दिन में यदि दोषियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो मांडल बंद कराया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mandal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×