--Advertisement--

20 साल में बना चारभुजानाथ का मंदिर, 118 सहयोगियों का सम्मान

भगवान श्रीचारभुजानाथ के दरबार में महाकुंभ के आखिरी दिन रविवार दोपहर में गुर्जर समाज की ओर से बनवाए शिखरबंद मंदिर...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 05:20 AM IST
20 साल में बना चारभुजानाथ का मंदिर, 118 सहयोगियों का सम्मान
भगवान श्रीचारभुजानाथ के दरबार में महाकुंभ के आखिरी दिन रविवार दोपहर में गुर्जर समाज की ओर से बनवाए शिखरबंद मंदिर पर स्वर्ण कलश चढ़ाया। इसी के साथ नौ दिवसीय 108 कुंडीय विष्णु महायज्ञ का समापन हुआ। समारोह के दौरान मंदिर निर्माण में 20 साल से लगातार सेवा-सहयोग दे रहे 118 लोगों का सम्मान किया गया।

दोपहर में धर्मसभा में मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट थे। आयोजन समित के संरक्षक व जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर ने इनका स्वागत किया। शुभ मुहूर्त में अतिथियों ने कलश व ध्वजादंड की मंत्रोच्चार से पूजा किया। इसके बाद क्रेन की सहायता से यज्ञाचार्य राधेश्याम शर्मा, प्रधान सुमन गुर्जर, नीरज गुर्जर, संयोजक कल्याण गुर्जर, पूर्व उपप्रधान मनीष गुर्जर, कमेटी के कोषाध्यक्ष छोटूलाल गुर्जर सहित पदाधिकारियों की मौजूदगी में कलश स्थापना की गई। श्रद्धालुओं ने भगवान श्रीचारभुजानाथ के जयकारों से वातावरण गूंजा दिया।

हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई। लोगों ने करीब दो घंटे तक मंदिर व मकान की छतों पर खड़े होकर पुष्प बरसाए। चप्पे-चप्पे पर श्रद्धालुओं का सैलाब था। पंडित बद्रीनारायण पंचोली के नेतृत्व में पण्डितों ने समवेत मंत्रोच्चार किया।

हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा, धर्मसभा के दौरान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट व पूर्व मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह का स्वागत

अतिथियों का किया माल्यार्पण

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट का माल्यार्पण िकया।

धर्म के काम में व्यक्ति बढ़चढ़ कर हिस्सा लें: गुर्जर

व्यक्ति को धर्म के काम में राजनीति से परे एकजुट होकर हिस्सा लेना चाहिए। बड़ी संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं से लगता है कि धर्म के प्रति आस्था जबरदस्त है। यह बात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कही। कार्यक्रम को पूर्व मंत्री डॉ. जितेंद्रसिंह ने भी संबोधित किया। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा अनेक क्षेत्र के विधायक, सरपंच भी पहुंचे। प्रदेश अध्यक्ष सचिन से लौटते समय मांडलगढ़ विधानसभा उपचुनाव में निर्दलीय लड़े गोपाल मालवीय ने भी मुलाकात की। इसकी चर्चा रही।

X
20 साल में बना चारभुजानाथ का मंदिर, 118 सहयोगियों का सम्मान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..