• Home
  • Rajasthan News
  • Mandal News
  • भारत और पाकिस्तान के बीच ट्रैक-2 डिप्लोमेसी के तहत बातचीत हुई
--Advertisement--

भारत और पाकिस्तान के बीच ट्रैक-2 डिप्लोमेसी के तहत बातचीत हुई

आतंकवाद को लेकर तल्ख रिश्तों के बीच केंद्र की एनडीए सरकार ने पाकिस्तान से संबंधों की नई शुरुआत के संकेत दिए हैं।...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 05:25 AM IST
आतंकवाद को लेकर तल्ख रिश्तों के बीच केंद्र की एनडीए सरकार ने पाकिस्तान से संबंधों की नई शुरुआत के संकेत दिए हैं। भारत के विशेषज्ञों के एक समूह ने 28 से 30 अप्रैल तक पाकिस्तान की यात्रा करके द्विपक्षीय संबंधों और ट्रैक-2 डिप्लोमेसी शुरू की है। सूत्रों के अनुसार दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडल ने आपसी संबंधों पर चर्चा की और इस पर सहमत हुए कि दोनों देशों के बीच सभी मुद्दों को बातचीत से सुलझाया जाना चाहिए। हालांकि इसके आयोजकों ने इस संबंध में आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा है।

भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विदेश मंत्रालय के पूर्व सचिव और पाकिस्तान मामलों के एक्सपर्ट विवेक काटजू ने किया। पाकिस्तान की तरफ से पूर्व विदेश सचिव इनामुल हक और इशरत हुसैन ने कमान संभाली। 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक, आतंकी हमलों और कुलभूषण जाधव के मुद्दे को लेकर दोनों देशों के बीच रिश्तों में खटास आ गई थी।

ट्रैक-2 डिप्लोमेसी के तहत 28 से 30 अप्रैल तक पाकिस्तान की यात्रा पर था भारतीय दल

क्या है ट्रैक-2 डिप्लोमेसी

ट्रैक-2 डिप्लोमेसी को नीमराना डायलॉग भी कहा जाता है। इसकी पहल 1990 में हुई थी और राजस्थान के नीमराना के किले में पहली बैठक हुई थी। इसमें सरकार सीधे तौर पर शामिल नहीं होती है। दोनों के देशों के बुद्धजीवियों, पत्रकारों और पूर्व राजनयिकों और विदेश विभाग के पूर्व अफसरों को शामिल किया जाता है। इस बार इस पहल में अंतर यह है कि इसमें विदेश मंत्रालय शामिल नहीं है।