• Home
  • Rajasthan News
  • Mandal News
  • बेटे का ऑपरेशन कराने अस्पताल आए व्यक्ति की जेब से 4300 रुपए निकाले, सीसीटीवी कैमरे बंद
--Advertisement--

बेटे का ऑपरेशन कराने अस्पताल आए व्यक्ति की जेब से 4300 रुपए निकाले, सीसीटीवी कैमरे बंद

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा बेटे के अपेंडिक्स का ऑपरेशन कराने के लिए एमजी अस्पताल आए एक व्यक्ति की जेब से 4300 रुपए...

Danik Bhaskar | May 10, 2018, 05:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

बेटे के अपेंडिक्स का ऑपरेशन कराने के लिए एमजी अस्पताल आए एक व्यक्ति की जेब से 4300 रुपए निकाल लिए गए। घटना के दौरान वह दोपहर करीब साढ़े 12 बजे आउटडोर स्थित 16 नंबर कमरे में बैठे डॉक्टर को दिखाने के लिए कतार में लगा था।

डॉक्टर को दिखाने के बाद दवाई लाने के लिए जेब में हाथ डाला तो घटना की जानकारी मिली। इस पर अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखने का आग्रह किया तो पता चला कि लंबे समय से सीसीटीवी कैमरे खराब हैं, जिससे जेबकतरे का पता नहीं सका है। पीड़ित महेंद्र शर्मा ने बताया कि बेटे का अपेंडिक्स का ऑपरेशन करवाना था। इसलिए वह आउटडोर में मरीजों के साथ कतार में लगा था। इसी दौरान किसी ने उसकी पेंट की पीछे की जेब में रखे पांच-पांच सौ रुपए के 8 व 100-100 रुपए के 3 नोट निकाल लिए। नोटों के साथ खाते की नकल व बेटे की सोनोग्राफी रिपोर्ट भी ले गए। डॉक्टर को दिखाने के बाद दी दवाई लाने के लिए कहा। महेंद्र ने दवा लाने के लिए जेब में हाथ डाला तो रुपए नहीं मिले तो अस्पताल परिसर में लगी चौकी पहुंचा तथा घटना की जानकारी चौकी इंचार्ज भंवर सिंह को दी। उन्होंने अस्पताल में पहुंच संदिग्ध लोगों से पूछताछ की, लेकिन वारदात करने वाले का पता नहीं चला। गौरतलब है कि दो दिन पहले भी अस्पताल परिसर में मांडल क्षेत्र के एक युवक की जेब 500 रुपए निकाल लिए गए थे। इसके अलावा मोबाइल चोरी के मामले भी हो चुके हैं।

आठ महीने खराब हैं सीसीटीवी कैमरे ... अस्पताल चौकी प्रभारी भंवर सिंह का कहना है कि आउटडोर के साथ ही अन्य जगह लगे सीसीटीवी कैमरे करीब 8 माह से खराब हैं। इन्हें ठीक कराने के लिए अस्पताल प्रशासन को कई बार बताया गया है। पीएमओ डॉ. एसपी आगीवाल का कहना है कि अस्पताल परिसर में लगे एक दर्जन से भी अधिक कैमरे पिछले 8-9 माह से खराब हैं। इसकी जानकारी लगाने वाली कंपनी को दी गई। उसके गारंटी में होगा तो ठीक कराए जाएंगे। अन्यथा नई व्यवस्था करेंगे।