Home | Rajasthan | Mandal | स्वच्छता अभियान के विज्ञापन पर फोटो व नारों का किया विरोध

स्वच्छता अभियान के विज्ञापन पर फोटो व नारों का किया विरोध

कस्बे के मेजा रोड पर राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान के तहत सफाई का संदेश देने के लिए दीवारों पर बनाई पेंटिंग को लेकर...

Bhaskar News Network| Last Modified - Apr 27, 2018, 05:35 AM IST

स्वच्छता अभियान के विज्ञापन पर फोटो व नारों का किया विरोध
स्वच्छता अभियान के विज्ञापन पर फोटो व नारों का किया विरोध
कस्बे के मेजा रोड पर राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान के तहत सफाई का संदेश देने के लिए दीवारों पर बनाई पेंटिंग को लेकर विवाद हो गया। कई विभिन्न संगठनों ने साधु के चित्र और नारों पर आपत्ती की।

लोगों ने धार्मिक भावनाओं का ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए एसडीएम सीएल शर्मा को ज्ञापन दिया। नागरिक सुरक्षा मंच व संगठनों ने गुरुवार को एसडीएम शर्मा को राज्यपाल व कलेक्टर के नाम दिए ज्ञापन में बताया कि ऐसी पेंटिंग से धार्मिक भावना आहत हुई है। ऐसी पेंटिंग बनाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। वहीं पेंटिंग को शीघ्र हटाया जाए। विरोध बढ़ता देखकर प्रशासन ने दीवार पर बनाई गई पेंटिंग को हटा दिया। इस बारे में विकास अधिकारी गिर्राज मीणा ने बताया कि मामले की जानकारी मिलते ही शीघ्र दीवार पेंटिंग को हटा दिया गया। निर्देशित विज्ञापनों को ही दीवार पर पेंट किया जाता है। कहीं न कहीं ठेकेदार की गलती रही है। ठेकेदार व संबंधित कर्मचारी को नोटिस जारी कर दिया गया है।

विभिन्न संगठनों ने एसडीएम को दिया ज्ञापन, अफसर बोले-हमने ऐसी पेंटिंग बनाने की किसी को स्वीकृति नहीं दी

भास्कर संवाददाता | मांडल

कस्बे के मेजा रोड पर राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान के तहत सफाई का संदेश देने के लिए दीवारों पर बनाई पेंटिंग को लेकर विवाद हो गया। कई विभिन्न संगठनों ने साधु के चित्र और नारों पर आपत्ती की।

लोगों ने धार्मिक भावनाओं का ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए एसडीएम सीएल शर्मा को ज्ञापन दिया। नागरिक सुरक्षा मंच व संगठनों ने गुरुवार को एसडीएम शर्मा को राज्यपाल व कलेक्टर के नाम दिए ज्ञापन में बताया कि ऐसी पेंटिंग से धार्मिक भावना आहत हुई है। ऐसी पेंटिंग बनाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। वहीं पेंटिंग को शीघ्र हटाया जाए। विरोध बढ़ता देखकर प्रशासन ने दीवार पर बनाई गई पेंटिंग को हटा दिया। इस बारे में विकास अधिकारी गिर्राज मीणा ने बताया कि मामले की जानकारी मिलते ही शीघ्र दीवार पेंटिंग को हटा दिया गया। निर्देशित विज्ञापनों को ही दीवार पर पेंट किया जाता है। कहीं न कहीं ठेकेदार की गलती रही है। ठेकेदार व संबंधित कर्मचारी को नोटिस जारी कर दिया गया है।

किसी पेंटर की गलती से ऐसा किया गया है। वाट्सएप पर फोटो भेजकर करवाया है। ऐसे किसी भी विज्ञापन की पेंटिग को हमने अनुमति नहीं दी। ऐसी लापरवाही पर विकास अधिकारी को नोटिस तथा स्टाफ को चार्जशीट दी जा रही है। दिनेश चौधरी, जिला स्वच्छता अधिकारी

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now