Hindi News »Rajasthan »Mandal» बेड़च नदी पर 3.90 करोड़ की पुलिया का काम छोड़ भागा ठेकेदार, लोगों ने सामान भरे ट्रक व ट्रेलर रोके

बेड़च नदी पर 3.90 करोड़ की पुलिया का काम छोड़ भागा ठेकेदार, लोगों ने सामान भरे ट्रक व ट्रेलर रोके

लंबे समय बाद बेड़च नदी पर पुलिया का काम शुरू हुआ, लेकिन यह काम फिर अधर में है। 3.90 करोड़ की लागत से बनने वाली पुलिया का...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 08, 2018, 05:45 AM IST

  • बेड़च नदी पर 3.90 करोड़ की पुलिया का काम छोड़ भागा ठेकेदार, लोगों ने सामान भरे ट्रक व ट्रेलर रोके
    +1और स्लाइड देखें
    लंबे समय बाद बेड़च नदी पर पुलिया का काम शुरू हुआ, लेकिन यह काम फिर अधर में है। 3.90 करोड़ की लागत से बनने वाली पुलिया का काम ठेकेदार ने बीच में रोक दिया। ठेकेदार के कर्मचारी एलएनटी मशीन व अन्य सामान दो ट्रक व ट्रेलर में भरकर ले जाने लगे। पता चलने पर ग्रामीणों ने ट्रक व ट्रेलर काछोला के पास रोक लिए। सामान वापस कार्य स्थल पर ले आए। ग्रामीणों का कहना है कि बजरी व मजदूरी का करीब 4 लाख रुपए ठेकेदार में ग्रामीणों का बकाया चल रहा है। ठेकेदार पैसा चुकाए बिना सामान लेकर जाने लगा। भनक लगने पर सामान रोक लिया गया।

    जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा ने 3 करोड़ 90 लाख की लागत से बेड़च नदी पर पुलिया कार्य की स्वीकृति कराई। पुलिया निर्माण का ठेका दांतड़ा निवासी भीम सिंह मेड़तिया के नाम हुआ। ठेकेदार ने यह काम अन्य ठेकेदार को सौंप दिया। दूसरे ठेकेदार ने 25 दिसंबर 2017 को काम शुरू किया। पुलिया का निर्माण 24 अगस्त 2018 तक कार्य पूरा करना था। काम पूरा होने से पहले ठेकेदार ने काम रोक दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार ठेकेदार ने बनास नदी से बजरी भरकर पुलिया निर्माण स्थल बेड़च नदी किनारे ढेर लगा दिए। ट्रैक्टर मालिकों को किराया व श्रमिकों को मजदूरी भी नहीं दी। काम धीरे-धीरे करता रहा। 3 दिन पहले रात में ठेकेदार के कर्मचारी ट्रक व ट्रेलर में सामान भरकर जाने की फिराक में थे। ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली तो ग्रामीणों ने सामान भरकर जा रहे ट्रक व टेलर काछोला के पास पकड़ लिए। वापस नदी किनारे खाली करवा दिए।

    भास्कर संवाददाता | खटवाड़ा

    लंबे समय बाद बेड़च नदी पर पुलिया का काम शुरू हुआ, लेकिन यह काम फिर अधर में है। 3.90 करोड़ की लागत से बनने वाली पुलिया का काम ठेकेदार ने बीच में रोक दिया। ठेकेदार के कर्मचारी एलएनटी मशीन व अन्य सामान दो ट्रक व ट्रेलर में भरकर ले जाने लगे। पता चलने पर ग्रामीणों ने ट्रक व ट्रेलर काछोला के पास रोक लिए। सामान वापस कार्य स्थल पर ले आए। ग्रामीणों का कहना है कि बजरी व मजदूरी का करीब 4 लाख रुपए ठेकेदार में ग्रामीणों का बकाया चल रहा है। ठेकेदार पैसा चुकाए बिना सामान लेकर जाने लगा। भनक लगने पर सामान रोक लिया गया।

    जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा ने 3 करोड़ 90 लाख की लागत से बेड़च नदी पर पुलिया कार्य की स्वीकृति कराई। पुलिया निर्माण का ठेका दांतड़ा निवासी भीम सिंह मेड़तिया के नाम हुआ। ठेकेदार ने यह काम अन्य ठेकेदार को सौंप दिया। दूसरे ठेकेदार ने 25 दिसंबर 2017 को काम शुरू किया। पुलिया का निर्माण 24 अगस्त 2018 तक कार्य पूरा करना था। काम पूरा होने से पहले ठेकेदार ने काम रोक दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार ठेकेदार ने बनास नदी से बजरी भरकर पुलिया निर्माण स्थल बेड़च नदी किनारे ढेर लगा दिए। ट्रैक्टर मालिकों को किराया व श्रमिकों को मजदूरी भी नहीं दी। काम धीरे-धीरे करता रहा। 3 दिन पहले रात में ठेकेदार के कर्मचारी ट्रक व ट्रेलर में सामान भरकर जाने की फिराक में थे। ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली तो ग्रामीणों ने सामान भरकर जा रहे ट्रक व टेलर काछोला के पास पकड़ लिए। वापस नदी किनारे खाली करवा दिए।

    बेडच नदी की अधूरा पड़ा पुलिया निर्माण एवं ट्रक में भरकर ले जाई गई एलएनटी मशीन एवं अन्य सम्मान वापस लेकर आए ग्रामीण।

    काम ज्यादा होने से मैंने यह ठेका दूसरे ठेकेदार को दे दिया था। ठेकेदार ने काम बंद कर दिया है यह मुझे पता नहीं है। अभी मैं अहमदाबाद हूं। लौटकर मैं खुद पुलिया निर्माण कार्य शुरू करा दूंगा। भीम सिंह मेड़तिया, ठेकेदार

    हमने ठेकेदार को नोटिस दिया है। ठेकेदार को अंतिम नोटिस दिया जा रहा है। ठेकेदार के पास काम अधिक होने और संसाधन की कमी होने से काम अटका है। समय पर काम नहीं होने पर रि-टेंडर किया जाएगा। हिमांशु जैन, सहायक अभियंता, पीडब्ल्यूडी मांडलगढ़

  • बेड़च नदी पर 3.90 करोड़ की पुलिया का काम छोड़ भागा ठेकेदार, लोगों ने सामान भरे ट्रक व ट्रेलर रोके
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mandal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×