Hindi News »Rajasthan »Mandawa» अनाज का कण और आनंद का क्षण गंवाएं नहीं : नरेंद्र

अनाज का कण और आनंद का क्षण गंवाएं नहीं : नरेंद्र

झुंझुनूं | ग्रामीण हाट आबूसर में आयोजित सात दिवसीय शेखावाटी हस्तशिल्प एवं पर्यटन मेले का समापन बुधवार को हुआ।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:05 PM IST

झुंझुनूं | ग्रामीण हाट आबूसर में आयोजित सात दिवसीय शेखावाटी हस्तशिल्प एवं पर्यटन मेले का समापन बुधवार को हुआ। मुख्य अतिथि मंडावा विधायक नरेंद्र कुमार ने कहा कि अनाज का कण और आनंद का क्षण गंवाना नहीं चाहिए। ऐसे मेलों के आयोजनों से आनंद की अनुभूति होती है। उन्होंने आश्वस्त किया कि वे अपने विधायक कोटे से इस शिल्पग्राम के विकास में सहयोग करेंगे। अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर दिनेश कुमार यादव ने बताया कि यह मेला 20 साल पहले शुरू हुआ था। इस का उद्देश्य शेखावाटी के हस्तशिल्प से जुड़े लोगों को उचित स्थान उपलब्ध कराना था ताकि वे अपनी काबलियत को लोगों के सामने ला सकें। इससे लघु उद्यमियों को अपने उत्पादों को बेचने के लिए भी प्लेटफार्म मिला है। कलेक्टर ने यह भी सुझाव दिया कि शिल्पग्राम में वर्ष पर्यंत कोई न कोई आयोजन होते रहना चाहिए ताकि इसका भी विकास हो सके। सभापति सुदेश अहलावत ने ने शहर में लगने वाले विभिन्न मेलों का आयोजन इस ग्रामीण हाट आबूसर में ही करवाने का आग्रह किया ताकि लोगों का यहां से जुडाव हो सके।

मेले में करीब 60 लाख की बिक्री हुई : मेला संयोजक एवं जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक नानूराम गहनोलिया ने बताया कि मेले में बिहार, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, उत्तरप्रदेश, झारखंड, बिहार, मध्यप्रदेश, राजस्थान के कोटा, टोंक, बीकानेर, सीकर, जयपुर, उदयपुर, चूरू, बारां, चित्तौड़गढ़ सहित स्थानीय दस्तकारों की हस्तशिल्प / लघु उद्योग / व्यापारिक / विभागीय 150 स्टॉल्स लगाई गई थी। मेले में ऊनी वस्त्र, लकड़ी के कलात्मक आइटम्स, हैंडलूम, पत्थर की कलात्मक वस्तुओं सहित 60 लाख की बिक्री हुई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mandawa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×