• Hindi News
  • Rajasthan
  • Maniya
  • पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्म भूमि महोत्सव का आज से होगा शुभारंभ
--Advertisement--

पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्म भूमि महोत्सव का आज से होगा शुभारंभ

Dainik Bhaskar

Feb 05, 2018, 05:40 AM IST

Maniya News - जैन समाज की ओर से कस्बे में 5 फरवरी से होने वाले सात दिवसीय महा पंचकल्याणक महोत्‍सव की की तैयारियां पूरी कर ली गई...

पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्म भूमि महोत्सव का आज से होगा शुभारंभ
जैन समाज की ओर से कस्बे में 5 फरवरी से होने वाले सात दिवसीय महा पंचकल्याणक महोत्‍सव की की तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिसमें ध्वजारोहण व घटयात्रा के साथ कार्यक्रम की शुरूआत होगी। महाआयोजन में देश व विदेश के कौने-कौने से गुरुभक्तों का मनियां पहुंचना शुरू हो चुका है। वहीं 5 फरवरी को आचार्य वसुनंदी महाराज 30 साल बाद अपने नगर में मंगल प्रवेश करेंगे जिसमें उनके साथ बडी संख्या में मुनिसंघ एवं आर्यिका संघ साथ रहेंगे। आचार्य के नगर प्रवेश करने पर समाज की ओर से 30 कलश 30 गाड़ियां 30 बेंड के साथ ही बड़ी संख्या में जन समूह मौजूद रहेगा। सीमा पर आचार्य श्री एवं उनके साथ आने वाले सभी मुनियों का स्वागत किया जाएगा। इसके बाद गुरू शिष्य मिलन होगा। जिसमें 30 साल बाद शिष्य श्रद्धानंद महाराज एवं पवित्रानंद महाराज अपने गुरू से मिलन करेंगे। महा महोत्सव को लेकर कस्बा को दुल्हन की तरह से सजाया गया है इसे लेकर आयोजन कमेटी की ओर से दिनभर तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। कार्यक्रम के पहले दिन गुरू शिष्य का मिलन कार्यक्रम होगा उसके बाद 84 फुट उत्तुंग ध्वजदंड पर होगा। ध्वजारोहण में होंगी 108 ध्वजाएं करीब 1300 प्रतिमाएं प्रतिष्ठित होगी। जिनमें सवा ग्यारह फुट की विशाल पद्मासन प्रतिमा से लेकर 3 इंच तक कि प्रतिमा प्रतिष्ठित की जाएगीं। जिसमें लगभग 30 से ज्‍यादा संतो का सानिध्य और 9 प्रतिष्ठाचार्य के निर्देशन मे प्रतिमाओं को प्रतिष्ठित किया जाएगा।

11 फरवरी तक होंगे कई कार्यक्रम, तैयारियां हुई पूर्ण

मनियां। कस्बा में महा आयोजन की तैयारियों को लेकर अंतिम रूप देते आयोजन समिति के सदस्य|

24 तीर्थंकरों की प्रतिमाओं का होगा नव निर्मित जैन मंदिर में प्रतिष्ठान

कस्बा में जैन समाज द्बारा जीटी रोड पर बनाए गए नव निर्मित भव्य श्री 1008 चन्द्र प्रभू दिगंबर जैन मंदिर का निर्माण आचार्य वसुनन्‍दी मुनिराज की प्रेरणा से पूरा हो चुका है। नवनिर्मित जिनालय मे भगवान श्री चन्द्रप्रभु सहित 24 तीर्थंकरों की प्रतिमाओं को 5 फरवरी से पंचकल्याणक महोत्‍सव के दौरान आचार्य श्री के सानिध्य में प्रतिष्ठित किया जाएगा।

सात फरवरी को होगी हैलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा

7 फरवरी को सुंदर व आकर्षक पांडुकशिला पर 1008 कलशों से जन्माभिषेक के अवसर पर हैलीकॉप्टर द्बारा पुष्प वर्षा की जाएगी। आयोजन के दौरान 5 फरवरी 7 फरवरी एवं 11 फरवरी को विशाल शोभायात्राओं का आयोजन भी किया जाएगा।

X
पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्म भूमि महोत्सव का आज से होगा शुभारंभ
Astrology

Recommended

Click to listen..