• Hindi News
  • Rajasthan
  • Maniya
  • पंचकल्याणक महोत्सव में हुए मंत्र आराधना व नित्यमह पूजन
--Advertisement--

पंचकल्याणक महोत्सव में हुए मंत्र आराधना व नित्यमह पूजन

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 05:50 AM IST

Maniya News - मनियां| कस्बा में सात दिवसीय जिनबिंब पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्‍म भूमि महोत्सव के दूसरे...

पंचकल्याणक महोत्सव में हुए मंत्र आराधना व नित्यमह पूजन
मनियां| कस्बा में सात दिवसीय जिनबिंब पंचकल्याणक प्रतिष्ठा विश्वशांति महायज्ञ एवं जन्‍म भूमि महोत्सव के दूसरे दिन प्रात: वेला में मंत्र आराधनाएं, नित्यमह पूजन, जाप मंगल, अभिषेक, शांति धारा, देवशास्‍त्र गुरूपूजन, गर्भ कल्याणक पूजन शांतियज्ञ किया गया। उसके बाद वसुनंदी महाराज का पाद प्रच्छालन व शास्त्र भेंट और इंद्रों के साथ प्रतिष्ठाचार्यों मनोज जैन शास्त्री एवं अन्‍य भक्‍तों के साथ किया गया। इस अवसर पर चित्र अनावरण राजू जैन मनीष जैन साधनाएं सुरेश जैन राजाखेड़ा रहे एवं दीप प्रज्ज्वलन शरद पालीवाल दि‍ल्ली एवं सुरेंद्र जैन नौगांव द्बारा किया गया।

स्वागत अध्‍यक्ष पंकज जैन अलवर वाले अल्पहार प्रदाता विमला देवी जैन एवं भागचंद्र जैन भोजन का सौभाग्य मंजू जैन अभिषेक जैन, विवेक जैन को प्राप्त हुआ। इसके बाद आचार्य वसुनंदी महाराज के मंगल प्रवचन हुए। इस अवसर पर आचार्य श्री ने कहा कि पंचकल्याणक महोत्‍सव विश्व शांति मानवता को समर्पित है। जिनेंद्र भगवान का अभिषेक नित्य प्रात:काल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जीवन में जब पुण्य का उदय आता है तब शरीर मे पुण्य की क्रिया होती है बिना पुण्य के उदय से मन में पुण्य के भाव नहीं आते। प्रवचन के बाद गर्व कल्याणक, उत्तर पूर्वाद्ध के तत्वाधान में सीमंतनी क्रिया हुई। जिसमें गोद भराई इन्द्र इन्द्राणी बने भगवान के माता पिता की गोद भराई हुई। इस दौरान हजारों माता बहनों के साथ भक्तों की गोद भराई के लिए होड़ मची रही। गोद भराई में विभिन्न प्रकार के मेवों को अर्पण किया गया एवं नृत्य नाटिका का मंचन चक्रेश जैन के निर्देशन में हुआ। दोपहर में घट यात्राएं नवीन वेदी की शुद्धि एवं वेदी संस्कार कार्यक्रम हुए। सांयकाल को मंगल आरती एवं शास्त्र प्रवचन हुए।

मनियां. कार्यक्रम के दौरान प्रवचन देते वसुनंदी महाराज।

आज निकलेगी शोभायात्रा हैलीकॉप्टर से होगी पुष्प वर्षा : महोत्सव के तीसरे दिन बुधवार को सुंदर व आकर्षक पांडुकशिला पर 1008 कलशों द्बारा जन्माभिषेक के अवसर पर ऐरावत हाथी पर पांडुकशिला की ओर मुख्‍य कार्यक्रम स्थल से विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी वही हेलीकॉप्टर द्वारा पुष्प वर्षा की जाएगी।

X
पंचकल्याणक महोत्सव में हुए मंत्र आराधना व नित्यमह पूजन
Astrology

Recommended

Click to listen..