Hindi News »Rajasthan »Maniya» रैहना वाली माता के दर्शनों के लिए जाने वाले दर्शनार्थियों ने जगह-जगह लगे भंडारे में पाई प्रसादी

रैहना वाली माता के दर्शनों के लिए जाने वाले दर्शनार्थियों ने जगह-जगह लगे भंडारे में पाई प्रसादी

चंबल के बीहड़ों में स्थित माता रैहना वाली के दर्शनों के लिए भक्तों की भारी भीड़ देखी गई। मंगलवार को अल सुबह से ही माता...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 29, 2018, 05:50 AM IST

रैहना वाली माता के दर्शनों के लिए जाने वाले दर्शनार्थियों ने जगह-जगह लगे भंडारे में पाई प्रसादी
चंबल के बीहड़ों में स्थित माता रैहना वाली के दर्शनों के लिए भक्तों की भारी भीड़ देखी गई। मंगलवार को अल सुबह से ही माता रानी के दर्शनों के लिए भक्त टैक्टर-ट्रॉलियों एवं अन्य वाहनों से माता के दरबार में पहुंचे का सिलसिला शुरू हो गया जो देर रात तक चलता रहा। भक्तों ने माता रानी की पूजा अर्चना कर दर्शन किए और प्रसादी लगाई।

गौरतलब है कि मातारानी का लक्खी मेला नवरात्रा के पहले दिन से चल रहा है जो एकादशी तक भरता है जिसमें विभिन्न राज्यों से लाखों की संख्या में भक्तजन माता के दर्शनों के लिए आते है। दर्शनार्थियों के लिए माता के भक्तों की ओर से जगह-जगह शीतल पेयजल एवं लंगर की व्यवस्था की गई। जहां भक्तों की ओर से वाहनों को रोक-रोककर दर्शनार्थियों को प्रसादी वितरण की गई। इस दौरान मनियां, मांगरोल, मरेना में जगह-जगह भंडारे लगाए गए। वहीं रात्रि को पैदल जाने वाले यात्रियों के लिए चाय की व्यवस्था भी की गई। गांव मांगरोल में ग्रामीण एवं बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की ओर से यात्रियों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण एवं फ्री दवाइयों की व्यवस्था की गई। जिसमें नर्सिंग के छात्र सत्येंद्र राठौर, जैकी जैन ने योगदान दिया उनके साथ डाॅ. कुलवीर का पूरा सहयोग रहा।

मनियां। लोगों को प्रसादी देते ग्रामीण।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Maniya News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: रैहना वाली माता के दर्शनों के लिए जाने वाले दर्शनार्थियों ने जगह-जगह लगे भंडारे में पाई प्रसादी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Maniya

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×