Hindi News »Rajasthan »Maniya» रात में महिला दोस्त से मिलने आए पुलिसकर्मी को परिजनों ने कमरे में बंधक बनाकर पीटा, सुबह पुलिस ने मुक्त कराया

रात में महिला दोस्त से मिलने आए पुलिसकर्मी को परिजनों ने कमरे में बंधक बनाकर पीटा, सुबह पुलिस ने मुक्त कराया

खेरली गांव में रात को महिला दोस्त से मिलने गए मनियां थाने के पुलिसकर्मी राजकुमार को महिला के परिजनों ने कमरे में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 10, 2018, 06:00 AM IST

रात में महिला दोस्त से मिलने आए पुलिसकर्मी को परिजनों ने कमरे में बंधक बनाकर पीटा, सुबह पुलिस ने मुक्त कराया
खेरली गांव में रात को महिला दोस्त से मिलने गए मनियां थाने के पुलिसकर्मी राजकुमार को महिला के परिजनों ने कमरे में बंदकर बंधक बना लिया। इसके बाद परिजनों ने रात भर पुलिस कर्मी की जमकर पिटाई की। यहीं नहीं परिजनों ने महिला की भी पिटाई की। सुबह पुलिस कर्मी राजकुमार को बंधक बनाने की सूचना मिलने पर मनियां सीओ वचन सिंह मय पुलिस बल के साथ गांव पहुंचे और बंधक पुलिस कर्मी के साथ महिला को भी थाने लेकर आए। पुलिस ने घायल पुलिस कर्मी और महिला का मेडिकल करवाया है। इस संबंध में परिजनों और महिला दोनों ने मनियां थाने में तहरीर दी है। महिला ने बताया कि उसकी शादी 2007 में खेरली गांव में हुई थी। करीब दो साल पहले उसके पति की मौत हो गई है। महिला ने आरोप लगाया कि उसके ससुरालीजन उसे गलत नजर से देखते हैं और जायदाद को लेकर घर से निकालना चाहते हैं। इसी के चलते उन्होंने रात को पुलिस कर्मी राजकुमार को बुलाया था। उसके आते ही ससुरालीजनों ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया और अंदर आकर दोनों की पिटाई करनी शुरू कर दी। महिला ने बताया कि परिजनों ने दोनों की जमकर पिटाई की और सुबह तक बंधक बनाकर रखा। सुबह पुलिस ने पहुंचकर उन्हें मुक्त करवाया।

मनियां थाने में तहरीर देने पहुंचे महिला के जेठ ने बताया कि पुलिस कर्मी राजकुमार रात को सादा वर्दी में उसके घर में घुस आया। जेठ का आरोप है कि पुलिस कर्मी राजकुमार पहले उसकी प|ी के पास पहुंचकर छेड़छाड़ करने लगा था। प|ी ने चिल्लाना शुरू किया तो पुलिस कर्मी भागा और छोटे भाई की प|ी के कमरे में घुस गया। चिल्लाने की आवाज सुनकर आसपास के लोग भी मौके पर एकत्रित हो गए और पुलिस कर्मी को छोटे भाई के कमरे में बंधक बना लिया। महिलाओं से छेड़छाड़ को लेकर उसकी पिटाई की गई। जेठ की प|ी ने इस संबंध में थाने में पुलिस कर्मी के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया है।

परिजनों का आरोप-पुलिसकर्मी ने महिलाओं से की छेड़छाड़, दोस्त महिला बोली-मैंने बुलाया था

महिला की एक माह पहले पुलिस कर्मी से हुई थी दोस्ती, चाय पीने बुलाया था

मनियां. सुबह पुलिस के निकालने के बाद कर्मी को पीटते लोग।

बदनाम करने के लिए फोटो की वायरल

थाने में महिला ने बताया कि रात को परिजनों ने पहले दोनों की जमकर पिटाई की। इसके बाद पुलिस कर्मी राजकुमार को बेड पर लिटा दिया और मुझे पास में खड़ा कर अश्लील फोटो खींची गई। महिला ने बताया कि परिजनों ने दोनों को बदनाम करने की नीयत से सभी फोटो को सोशल मीडिया में डाल दी। ताकि सभी के पास फोटो पहुंच जाए और वह बदनाम हो जाए। यह सब सोची समझी साजिश है।

महिला ने बताया कि पति की मौत के बाद उसके ससुराल वाले उसे गलत नजर से देखते हैं। घर में जायदाद का हिस्सा न देना पड़े इसको लेकर वे उसे घर निकालना चाहते हैं। महिला ने बताया कि करीब एक महीने पहले उसकी पुलिस कर्मी राजकुमार से दोस्ती हुई है। ऐसे में वह उसे अपनी परेशानी बता देती थी। महिला ने बताया कि रात करीब 9.30 बजे उसने पुलिस कर्मी राजकुमार को घर पर बुलाया और वह चाय बना रही थी। इस दौरान परिजनों ने बाहर से गेट बंद कर दिया और करीब 10 लोग अंदर आकर राजकुमार को बंधक बनाकर रात भर पीटा। वहीं करीब आधे घंटे तक उसकी भी पिटाई की। महिला ने कहा कि पुलिस कर्मी राजकुमार से उसकी दोस्ती है, लेकिन किसी प्रकार के नाजायज संबंध नहीं हैं।

गांव में चर्चा : पुलिस कर्मी से मिलने को लेकर परिजनों ने महिला से कई बार की थी समझाइश जानकारी के अनुसार, महिला के पुलिस कर्मी से मिलने की जानकारी परिजनों को पहले से ही थी। गांव के लोगों ने बताया कि महिला से पुलिस कर्मी द्वारा मिलने को लेकर परिजन नाराज भी थे। इस संबंध में परिजनों ने पहले भी कई बार महिला से समझाइश की थी, लेकिन वह नहीं मानी। गुरुवार रात को पुलिस कर्मी जब घर आया तो यह घटना हो गई।

पुलिस कर्मी के विरुद्ध होगी विभागीय कार्रवाई

घटना से पुलिस उच्चाधिकारियों में नाराजगी है। सूत्रों की मानें तो पुलिस कर्मी ने किसी को सूचना नहीं दी और रात करीब 9.30 बजे महिला के बुलाने पर उसके घर पर सादा वर्दी में चला गया था। पुलिस को सुबह जानकारी हुई कि पुलिस कर्मी को रात से बंधक बनाया गया है इसी घटनाक्रम के चलते वे पुलिस कर्मी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई कर सकते हैं।

घायल पुलिसकर्मी।

सवाल- पुलिसकर्मी सादा वर्दी में था, गश्त का बहाना बनाया पर किसी को नहीं दी सूचना

सुबह करीब 8 बजे कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी कि खेरली गांव के अंदर एक सिपाही को बंधक बना रखा है। सूचना मिलने पर मौके पर गए तो वहां पर हमारा सिपाही राजकुमार और महिला मौजूद थी। हम दोनों को लेकर थाने आए। महिला ने थाने में परिवाद दिया है कि उसकी पुलिस कर्मी से जान-पहचान थी। उसने पुलिस कर्मी को बुलाया था, क्योंकि ससुराल पक्ष के लोग महिला को तंग करते हैं। पुलिस कर्मी के घर आते ही दोनों को बंद कर दिया और मारपीट की। इस संबंध में महिला और परिजनों दोनों से परिवाद ले लिया है। -वचन सिंह, सीओ, मनियां

पुलिस कर्मी बोला :

एक माह पूर्व शिकायत करने आई, तब लिया नंबर, हो गई जान-पहचान

पुलिस कर्मी राजकुमार ने बताया कि करीब एक महीने पहले महिला परिजनों की शिकायत करने के लिए थाने आई थी। महिला ने तब उससे उसका मोबाइल नंबर लिया था। इसके बाद महिला ने उसे कई बार फोन किया तो जान-पहचान बन गई। रात को वह गश्त पर था, तभी महिला ने फोन कर उसे चाय के लिए बुला लिया। वह महिला के घर चला गया तो परिजनों ने बाहर से गेट बंद दिया और उसे पीटना शुरू कर दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Maniya News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: रात में महिला दोस्त से मिलने आए पुलिसकर्मी को परिजनों ने कमरे में बंधक बनाकर पीटा, सुबह पुलिस ने मुक्त कराया
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Maniya

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×