मेरटा

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Merta News
  • मेड़ता रोड में खड़ी लीलण एक्सप्रेस से टकराया इंजन, झटके के साथ सीटों से गिरे यात्री, चोटिल
--Advertisement--

मेड़ता रोड में खड़ी लीलण एक्सप्रेस से टकराया इंजन, झटके के साथ सीटों से गिरे यात्री, चोटिल

भास्कर संवाददाता | मेड़ता रोड मेड़ता रोड रेलवे स्टेशन पर खड़ी बीकानेर-जयपुर इंटरसिटी (लीलण एक्सप्रेस) से शंटिंग...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:10 PM IST
भास्कर संवाददाता | मेड़ता रोड

मेड़ता रोड रेलवे स्टेशन पर खड़ी बीकानेर-जयपुर इंटरसिटी (लीलण एक्सप्रेस) से शंटिंग के दौरान उसका इंजन बुधवार सुबह टकरा गया। यह टक्कर इतनी जोरदार थी कि ट्रेन में बैठे यात्री झटके के साथ गिर गए। इससे कई यात्रियों को चोट भी आई है। हालांकि, शंटिंग के दौरान कोच व इंजन की कपलिंग के लिए कोई रेलकर्मी बीच में नहीं खड़ा था। अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था।

जानकारी के अनुसार, जैसलमेर व बीकानेर से आकर जयपुर की ओर जाने वाली लीलण एक्सप्रेस बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे मेड़ता रोड में प्लेटफार्म संख्या दो पर आकर खड़ी हुई। यहां आने के बाद इंजन को दूसरी साइड से लगाया जाता है। इस दौरान इंजन को जयपुर की साइड लगाया जा रहा था। लेकिन चालक की लापरवाही से इंजन खड़ी ट्रेन के कोच से टकरा गया।

टक्कर इतनी तेज थी कि ट्रेन में बैठे यात्री सीटों से नीचे गिर गए। इधर, खिड़कियों के दरवाजे नीचे गिरने से यात्रियों के हाथों पर भी चोटें आई हैं। इंजन के पीछे के कोच में बैठे यात्रियों को भी चोटें आई हैं। मामले को देखते हुए एकबारगी सभी यात्री ट्रेन से बाहर निकलकर आ गए। जब इंजन के पास पहुंचे तो चालक ने तकनीकी खराबी की बात कही। कुछ देर बाद ट्रेन को जयपुर की ओर रवाना किया गया। गनीमत है कि इंजन और कोच की कपलिंग को जोड़ने के लिए रेलकर्मी बीच में नहीं खड़ा था। वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

मेड़ता रोड: कोच व इंजन में टक्कर के बाद इंजन के पास इकट्‌ठे हुए यात्री और अपनी चोटें दिखातीं एक महिला यात्री।

हिसार-जोधपुर डीएमयू से नीलगाय टकराई, इंजन हुआ फेल, पांच घंटे देरी से मेड़ता रोड पहुंची ट्रेन, 89 स्टेशन पर यात्री हुए परेशान

हिसार से जोधपुर की ओर जाने वाली डीएमयू से एक नीलगाय टकरा जाने के बाद इंजन खराब हो गया। दूसरा डीजल इंजन लगाने के बाद डीएमयू आगे की ओर रवाना हो सकी। इंजन खराब होने के कारण ट्रेन पांच घंटे की देरी से मेड़ता रोड पहुंची। वहीं, जोधपुर देरी से पहुंचने के कारण पालनपुर के लिए डीएमयू चार घंटे की देरी से रवाना हो सका। एक ट्रेन लेट होने से 89 स्टेशनों के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार, बुधवार को सुबह 5:15 बजे हिसार से डीएमयू ट्रेन संख्या 74836 रवाना हुई। एक स्टेशन ही क्रॉस किया कि चरड़ौद-सिवानी के बीच एक नीलगाय इंजन से टकरा गई। इससे डीएमयू का इंजन खराब हो गया। लोको पायलेट ने जैसे तैसे करके इसे शिवानी स्टेशन तक पहुंचाया। शिवानी स्टेशन पर सुबह 5:45 बजे आकर डीएमयू खड़ी हो गई। लोको पायलेट ने डीजल इंजन भेजने का मैसेज कंट्रोलर को दिया। यहां से डीएमयू डीजल इंजन लगाने के बाद 9:35 बजे डीएमयू पौने चार घंटे की देरी से रवाना हो सका। डीएमयू का मेड़ता रोड पहुंचने का समय दोपहर 1:15 बजे का है। मगर वह पांच घंटे की देरी से शाम 6 बजे पहुंच सकी। हिसार-जोधपुर के बीच 50 स्टेशनों के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

पालनपुर जाने वाली डीएमयू भी हुई लेट

हिसार से जोधपुर डीएमयू पहुंचने के बाद यही रैक ट्रेन संख्या 74835 पालनपुर के लिए जोधपुर से शाम 5:15 बजे रवाना होती है। मगर यह चार घंटे की देरी से पहुंचने के कारण पालनपुर के लिए रात नौ बजे के बाद ही रवाना हो सकी। इस कारण 39 स्टेशनों के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

मेड़ता रोड. डीजल इंजन के साथ पहुंची डीएमयू।

X
Click to listen..