• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Merta News
  • मेड़ता की 70 स्कूलों में भूगोल, कॉलेज में नहीं, उच्च शिक्षा में विषय छोड़ने की है मजबूरी
--Advertisement--

मेड़ता की 70 स्कूलों में भूगोल, कॉलेज में नहीं, उच्च शिक्षा में विषय छोड़ने की है मजबूरी

भास्कर संवाददाता | मेड़ता सिटी सिटी (आंचलिक) मेड़ता विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं के निस्तारण की मांग लेकर...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:10 PM IST
भास्कर संवाददाता | मेड़ता सिटी सिटी (आंचलिक)

मेड़ता विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं के निस्तारण की मांग लेकर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को जयपुर में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वरलाल डूडी की जनसुनवाई में समस्याएं रखी। उन्होंने बताया कि राजकीय कॉलेज में व्याख्याताओं के 42 पद स्वीकृत हैं। इनमें 22 पद रिक्त हैं। कॉलेज पीजी में क्रमोन्नत होने के बाद भी पद पर नियुक्ति नहीं हुई। भूगोल विषय नहीं खुल पाया। जबकि विधानसभा क्षेत्र में 70 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में भूगोल विषय है। विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के दौरान भूगोल विषय छोड़ने को मजबूर होना पड़ता है।

इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मेड़ता सिटी में महिला कॉलेज व रियांबड़ी में कॉलेज खुलवाने की मांग की है। इसके साथ ही आकेली ए गांव व शहर के राजकीय माध्यमिक विद्यालय नंबर एक को पीपीपी मोड पर लिया है। जिसे निरस्त करने की मांग की।

चिकित्सा सेवाओं में सुधार का मुद्दा उठाने की रखी मांग

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के सामने राजकीय अस्पताल को 100 बैड में क्रमोन्नत कराने की मांग की। उन्होंने मेड़ता क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी के अनुरूप एएनएम नियुक्त कराने की मांग की। वहीं, मेड़ता से पुष्कर को रेल लाइन से जोड़ने, क्षेत्र में क्षतिग्रस्त सड़कें दुरुस्त करने, जोधपुर से नागौर के लिए बाइपास, मेड़ता रोड में बाइपास और रियां बड़ी में बाइपास का निर्माण कराने सहित विभिन्न मांगें रखी। इस दौरान पूर्व विधायक रामचंद्र जारोड़ा, लक्ष्मणराम मेघवाल, डीसीसी सचिव सीताराम मेघवाल, गोविंद डांगा, पीसीसी सदस्य नंदाराम महेरिया, सरपंच सुशील लटियाल, लालाराम नायक, सुरेंद्र बापोडिय़ा, अविनाश बोरानिया, माणक सैन और महेंद्र कापड़ी आदि मौजूद थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..