Hindi News »Rajasthan »Merta» नरेगा संविदा कर्मियों काे नियमित करने की मांग: 36वें दिन भी जारी रहा धरना

नरेगा संविदा कर्मियों काे नियमित करने की मांग: 36वें दिन भी जारी रहा धरना

भास्कर संवाददाता| मेड़ता सिटी (आंचलिक) मेड़ता पंचायत समिति परिसर में मंगलवार को महात्मा गांधी नरेगा कार्मिक संघ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 06, 2018, 05:10 AM IST

नरेगा संविदा कर्मियों काे नियमित करने की मांग: 36वें दिन भी जारी रहा धरना
भास्कर संवाददाता| मेड़ता सिटी (आंचलिक)

मेड़ता पंचायत समिति परिसर में मंगलवार को महात्मा गांधी नरेगा कार्मिक संघ का धरना 36वें दिन भी जारी रहा। मेड़ता संघ अध्यक्ष दीपक जोशी ने बताया कि नरेगा कार्मिकों की प्रमुख मांग सभी संविदा कार्मिकों को नियमित नियुक्ति प्रदान की जानी चाहिए। पंचायत राज एलडीसी भर्ती के शेष पदों पर भर्ती पूर्ण करके संविदा कार्मिकों को इस दंश से मुक्ति मिलनी चाहिए। धरना स्थल पर भीषण गर्मी के चलते ग्राम पंचायत मेड़तारोड में दीनाराम मेघवाल अचेत हो गया। मौके पर मेल नर्स गजेंद्र को बुलाकर ड्रिप चढ़ाई गई। प्रदेश प्रवक्ता करमाराम डांगा ने बताया कि सरकार जायज मांगों को निस्तारण करे। पंचायतीराज के सहायक अभियंता व कनिष्ठ अभियंताओं ने भी सरकार का काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन किया। ऐसे में संपूर्ण पंचायतराज के कार्य ठप है। राज्य सरकार के रवैये को लेकर कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त है।

धरना स्थल पर सहायक अभियंता राकेश कुमार मेहरिया, मंत्रालयिक कर्मचारी अध्यक्ष सियाराम, श्रवण जारोड़ा, रामनाथ मीना, अशोक कुमार, दिनेश, महावीर, रामकिशोर तिवाड़ी, भानुप्रताप, रामकिशोर माकड़ महेन्द्र भादू, महावीरप्रसाद, नरेगा कार्मिक संघ के कोषाध्यक्ष सत्यनारायण सैन, दीपक जोशी, सहाबुदीन, हितेन्द्र मीना, रामनाथ कालवा, भगवंतसिंह, कमलेशकंवर, लीला, रामलाल गरवा, शोभाराम, मंजू, जेटीए श्रवण विश्नोई, उमेश, मनीष, सुरेन्द्र, लेखा सहायक मनीराम, मनोज, राजेश मीणा, एमआईएस मैनेजर अनिल धवल, कम्प्यूटर ऑपरेटर, विजय सिंह, पप्पूराम कटारिया ब्लॉक कोऑर्डीनेटर सहित समस्त नरेगा कार्मिक मौजूद थे।

मेड़ता सिटी. पंचायत समिति के बाहर घरने पर बैठे संविदा नरेगा कर्मी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Merta

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×