• Hindi News
  • Rajasthan
  • Merta
  • दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
--Advertisement--

दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे

Merta News - दिनभर की तपन के बाद नागौर सहित जिले के कई शहरों और गांवों में बुधवार शाम को राहत की बूंदें बरसी। नागौर में दोपहर 3:45...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 05:15 AM IST
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दिनभर की तपन के बाद नागौर सहित जिले के कई शहरों और गांवों में बुधवार शाम को राहत की बूंदें बरसी। नागौर में दोपहर 3:45 बजे बारिश शुरू हुई। जो करीब 35 मिनट तक चली। इससे तापमान में 4 डिग्री की गिरावट आई। दोपहर में तापमान 42 डिग्री तक पहुंच गया था। वहीं, बारिश के बाद पारा घटकर 38 डिग्री रह गया। इससे गर्मी से लोगों को राहत मिली। दिन में हवा में आर्द्रता 36 फीसदी थी। जो बारिश के बाद घटकर 21 फीसदी रह गई। आर्द्रता कम होने से उमस से भी राहत मिली।

डीडवाना में दोपहर 3 बजे बाद धूल भरी आंधी चली। इसके बाद करीब 20 मिनट बारिश हुई। कुचामन में सुबह 10 बजे 40 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। दोपहर करीब 3:30 बजे धूल भरी आंधी चली। शाम 4:30 बजे बूंदाबांदी भी हुई। इससे तापमान में 5 डिग्री गिरावट हुई। आंधी से फ्लेक्स बोर्ड और होर्डिंग उड़ गए। वहीं, किशनगढ़-हनुमानगढ़ मेगाहाइवे पर आनंदपुरा के पास बांधी से एक पेड़ सड़क पर गिर गया। इससे कुछ समय यातायात भी बाधित हुआ। इसके बाद रात तक बूंदाबांदी का दौर जारी रहा। बोरावड़, लादड़िया, शेरानी आबाद, मौलासर, सांजू, मंगलाना, मेड़ता रोड और मेड़ता सिटी में भी धूलभरी आंधी चलने के बाद बूंदा-बांदी हुई। जारोड़ा में बारिश से गौरव पथ पर पानी भर गया। बारिश होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली।

6 घंटे में 7 डिग्री तक गिर गया पारा

40 डिग्री

41 डिग्री

39 डिग्री

38 डिग्री

38 डिग्री

मौसम विशेषज्ञों का अनुमान- पश्चिमी राजस्थान में 23 जून तक सक्रिय हो सकता है मानसून

रोल. रोल में दिनभर तेज गर्मी और उमस के बाद 3:45 बजेे बारिश हुई। इससे एकबारगी तो अंधेरा छा गया। बारिश के कारण कई जगह पेड़ गिर गए और टीन शैड उड़ गए। वहीं, जारोड़ा में बारिश के बाद गौरव पथ के आसपास पानी भर गया। नाली नहीं बनी होने से लोगों को परेशानी हुई।

15% घटी आर्द्रता, उमस का असर कम

35 डिग्री

36 डिग्री

1 बजे के करीब हवा में आर्द्रता 36% थी। जो शाम को 21% रह गई। इससे उमस का असर कम हो गया।

किसानों के चेहरे पर खुशी: बारिश के बाद गर्मी कम होने से जहां आमजन ने राहत महसूस की। वहीं, किसानों के चेहरों पर भी राहत दिखाई दी। वहीं, पिछले दिनों से जारी तेज गर्मी से राेजेदारों को भी परेशानी हो रही थी। बारिश से तापमान में कमी होने से रोजेदारों को भी राहत मिली।

आगे क्या : मानसून पर पड़ेगा असर

मौसम विभाग के पूर्व महानिदेशक एलएस राठौड़ ने बताया कि हालांकि, अभी से राजस्थान में मानसून के प्रवेश को लेकर संभावना जताना जल्दबाजी है। फिर भी दक्षिण और पूर्वोत्तर में वर्तमान हालात को देखते हुए कहा जा सकता है कि इस बार मानसून पिछले साल के मुकाबले 4 दिन पहले पश्चिमी राजस्थान में सक्रिय होगा।

नागौर में 35 मिनट तक हुई बारिश, चार डिग्री गिरकर 38 डिग्री रह गया तापमान

डीडवाना में दोपहर 3 बजे बाद चली धूल भरी आंधी, 20 मिनट बारिश, गर्मी से राहत

यहां भी बूंदाबांदी







नागौर: दिनभर की तेज गर्मी और उमस के बाद बुधवार शाम को आंधी के साथ शुरू हुई हल्की बारिश से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली। बारिश शुरू होने पर एसपी निवास के पास से गुजरती युवतियां आंधी से बचाव करती हुईं।

बासनी: कस्बे में बुधवार को हुई बारिश से लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली। बच्चों ने बारिश में नहाकर आनंद लिया। बारिश के बाद मौसम ठंडा हो गया।

आंधी-बारिश शुरू हुई तो बिजली गुल





ट्रैफिक रुका


दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
X
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
दोपहर में धूप ने झुलसाया, शाम को बरसी राहत की बूंदें, रोल में पेड़ गिरे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..