Hindi News »Rajasthan »Merta» पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में योगदान का किया आह्वान, पौधों की सार-संभाल का भी लिया संकल्प

पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में योगदान का किया आह्वान, पौधों की सार-संभाल का भी लिया संकल्प

रूण गांव में अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन के तत्वाधान में रविवार को ग्रामीणों व विद्यार्थियों के सहयोग से पौधरोपण किया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 06, 2018, 05:40 AM IST

  • पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में योगदान का किया आह्वान, पौधों की सार-संभाल का भी लिया संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
    रूण गांव में अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन के तत्वाधान में रविवार को ग्रामीणों व विद्यार्थियों के सहयोग से पौधरोपण किया गया। शिक्षाविद मेहराम गोलिया ने बताया कि पर्यावरण संरक्षण को लेकर अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन ने रूण के कब्रिस्तान, श्मशान घाट एवं बाबा बदरुद्दीन दरगाह प्रांगण सहित तालाब एवं अंगोर क्षेत्र में पौधरोपण किया। फाउंडेशन के बीसीआई प्रोजेक्ट के को-ऑर्डिनेटर गौरव चौधरी ने पेड़-पौधों के महत्व के बारे में जानकारी दी। उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति को दो-दो पौधे लगाकर उसके सरंक्षण की जिम्मेदारी लेने का आह्वान किया। अंबुजा फाउंडेशन के रामप्रसाद गोलिया ने बताया कि अंबुजा सीमेंट की ओर से चलाए जा रहे कपास उत्पादन कार्यक्रम के तहत पर्यावरण संरक्षण के तहत पौधरोपण की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रविवार को गांव की रोड स्थित कब्रिस्तान, श्मशान घाट और दरगाह प्रांगण सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों पर 251 पौधे लगाए। इस दौरान दिलीप सिंह श्याम देवासी, सिंहड़देव माध्यमिक शिक्षण संस्थान के निदेशक मेहराम गोलिया, माणक राम, सत्यनारायण शर्मा, बनवारी लाल, पदमा राम, रामप्रसाद जाट, माधा राम डूकिया व विद्यार्थियों एवं ग्रामीणों ने पौधरोपण कार्यक्रम में सहयोग किया।

    दधवाड़ा

    ढाढ़रिया कला स्कूल में लगाए 51 पौधे

    खजवाना| निकटवर्ती गांव ढाढ़रिया कलां में शनिवार को राजकीय माध्यमिक विद्यालय परिसर में पौधरोपण किया गया। प्रधानाध्यापक बलदेव राम जांगिड़ ने बताया कि विद्यालय में गत वर्ष भी पौधे लगाए गए थे जो अब पेड़ बन गए हैं। विद्यालय के अध्यापक रामपाल घोटिया ने पेड़-पौधों से होने वाले फायदों के बारे में जानकारी दी। पौधरोपण के दौरान अशोक, बिल्वपत्र, नीबू, नीम, शीशम, बरगद सहित कई प्रकार के 51 पौधे लगाए। इस दौरान छात्र-छात्राओं पौधों की सार-संभाल का संकल्प लिया। इस मौके पर छात्रा सुमित्रा, छात्र कैलाश, बिंदाराम, पूर्णराम, नाथूराम व सहदेव, अध्यापक गणपत चौधरी, गोविंद राम चारण, प्रभुराम, ओमप्रकाश आदि मौजूद थे।

    संत पांचाराम महाराज के सान्निध्य में लगाए पौधे

    मेड़ता सिटी (आंचलिक)| मेड़ता-रेण सड़क मार्ग पर स्थित दरियावजी खेजड़ा आश्रम में प्रांगण में संत पांचाराम महाराज के सान्निध्य में रविवार को पौधरोपण किया गया। इस मौके पर संत पांचाराम महाराज ने कहा कि पेड़-पौधे प्राणी मात्र के जीवन का आधार है। हमें पेड़-पौधों को अधिक से अधिक लगा कर उनका संरक्षण करना चाहिए। इस मौके पर भीखराम अजनबी, रामचंद्र पिचकिया, हरीदास महाराज, रमताराम महाराज, साध्वी सिंवरीबाई, छोटूराम रोज, रामनिवास चौधरी, धर्माराम गढ़वाल, रामचंद्र गौरा, विशनाराम थिरोद, सम्पतराम मेवड़ा आदि ने पौधे-रोपण कर संरक्षण करने का संकल्प लिया।

    मेड़ता सिटी

  • पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में योगदान का किया आह्वान, पौधों की सार-संभाल का भी लिया संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
  • पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में योगदान का किया आह्वान, पौधों की सार-संभाल का भी लिया संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Merta

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×