• Hindi News
  • Rajasthan
  • Merta
  • जोधपुर दिल्ली सरायरोहिल्ला ट्रेन 10 अगस्त से दिल्ली तक ही
--Advertisement--

जोधपुर-दिल्ली सरायरोहिल्ला ट्रेन 10 अगस्त से दिल्ली तक ही

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2018, 05:50 AM IST

Merta News - भास्कर संवाददाता | मेड़ता रोड जोधपुर-दिल्ली सरायरोहिल्ला के बीच संचालित होने वाली ट्रेन अब 10 अगस्त से दिल्ली तक...

जोधपुर-दिल्ली सरायरोहिल्ला ट्रेन 10 अगस्त से दिल्ली तक ही
भास्कर संवाददाता | मेड़ता रोड

जोधपुर-दिल्ली सरायरोहिल्ला के बीच संचालित होने वाली ट्रेन अब 10 अगस्त से दिल्ली तक ही संचालित होगी। इसका मगध एक्सप्रेस से लिंक हटा दिया जाएगा। इस कारण अब प्रतिदिन समय पर संचालित होने से जिले के यात्रियों को इसका लाभ मिलेगा।

जोधपुर से दिल्लीसरायरोहिल्ला वाया डेगाना-डीडवाना होकर संचालित द्विसाप्ताहिक ट्रेन को 3 मई 2017 को तत्कालीन रेलमंत्री सुरेश प्रभु के ने वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुभारंभ करते हुए नियमित किया था। मगर इस रैक का लिंक इस्लामपुर मगध एक्सप्रेस से किए जाने के कारण यह ट्रेन प्रतिदिन 4-5 घंटे की देरी से संचालित होने के कारण ट्रेन 40 से 50 प्रतिशत खाली ही संचालित हो रही थी। इसके चलते रेलवे को भारी आर्थिक नुकसान हो रहा था।

इसके अलावा यात्रियों को भी ट्रेन देरी से संचालित होने के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। इस पर आरटीई कार्यकर्ता दीनदयाल बंग, उत्तर पश्चिम रेलवे के परामर्शदात्री सदस्य अनिल कुमार खटेड़ ने रेलमंत्री सहित रेलवे के आला अधिकारियों, सांसदों आदि को बार-बार पत्र, ज्ञापन लिखने पर आश्वासन दिया गया था कि मगध एक्सप्रेस से लिंक हटा दिया जाएगा। आखिरकार अब 8 व 9 अगस्त को जोधपुर से रवाना होकर 10, 11 अगस्त को इस्लामपुर पहुंचने पर दक्षिण पूर्व रेलवे को रैक सौंप दिए जाएंगे। लिंक हटाने के लिए जोधपुर सांसद व केंद्रीय मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत ने भी रेलमंत्री से मिलकर लिंक हटाने की बात कही थी।

जिले के वाशिंदों को मिलेगी बड़ी राहत

इस ट्रेन के प्रतिदिन देरी से संचालित होने से जिले के गोटन, मेड़ता रोड, रेण, डेगाना, खाटू, डीडवाना, लाडनूं के वाशिंदों को रात के समय बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। मगर अब दिल्ली से ही वापिस रवाना होने के कारण यह समय पर संचालित होने के कारण जिले के वाशिंदों को इसका सीधा लाभ मिलेगा। प्रतिदिन ट्रेन दिल्ली सरायरोहिल्ला देरी से पहुंचने के कारण 40 से 50 प्रतिशत ट्रेन खाली दौड़ रही थी। विशेष कर नवंबर, दिसंबर, जनवरी में तो यह ट्रेन 7 से 12 घंटे तक की लेट हुई थी। ऐसे में यात्रियों को विभिन्न स्टेशनों पर बैठकर ट्रेन का इंतजार करना पड़ रहा था। मगर अब ट्रेन समय पर संचालित होने से यात्रियों को इसका लाभ मिलेगा। गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से लगातार यह ट्रेन देरी से संचालित होने के कारण यात्रियों की परेशानी के साथ-साथ रेलवे को भी राजस्व नुकसान हुआ।

X
जोधपुर-दिल्ली सरायरोहिल्ला ट्रेन 10 अगस्त से दिल्ली तक ही
Astrology

Recommended

Click to listen..