• Home
  • Rajasthan News
  • Merta News
  • राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम में अब तक जिले में 27 शिविरों का आयोजन, इस माह लगेंगे 5 शिविर
--Advertisement--

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम में अब तक जिले में 27 शिविरों का आयोजन, इस माह लगेंगे 5 शिविर

भास्कर संवाददाता |कुचामन सिटी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत...

Danik Bhaskar | Aug 07, 2018, 06:10 AM IST
भास्कर संवाददाता |कुचामन सिटी

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत गांव-ढाणी में जाकर मानसिक रोगियों की तलाश कर उपचार किया जाएगा। विभाग ने जिले के चिकित्सकों को इसके लिए प्रशिक्षण भी दिया है ताकि वे मानसिक रोगियों का बेहतर तरीके से उपचार कर सके। इसके तहत मंगलवार को कुचामन में एक शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिसमें नोडल अधिकारी डॉ. शंकरलाल सहित डॉ. अभिषेक बाबू, सीआरए राजकुमार सेवाएं देंगे। सीएमएचओ डॉ. सुकुमार कश्यप ने बताया कि मानसिक रोगियों की स्क्रीनिंग, जांच एवं उपचार के लिए जिले में अब तक 27 चिकित्सा संस्थानों में शिविर आयोजित किए जा चुके हैं। विभागीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्र में मानसिक रोगियों को चिन्हित कर इनका डाटा तैयार कर रहे है। ताकि इन्हें निकटवर्ती सरकारी चिकित्सा संस्थान पर लगने वाले शिविर में विशेषज्ञ चिकित्सक के जरिए उपचारित करवाया जा सके।

नियमित उपचार की आवश्यकता

मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. शंकरलाल ने बताया कि गंभीर मानसिक विकारों में सिजोफ्रेनिया, हिस्टीरिया, पैनिक, डिस आर्डर, फोबिया, ऑर्गेनिक साइकोसिस, मिर्गी, मेनिया और गहन अवसाद से लोग पीडि़त है। इन पर निरंतर इलाज और नियमित ध्यान देने की आवश्यकता होती है। उन्होंनें बताया कि जिले में अब तक जायल और रियां में 2-2, डीडवाना और मेड़ता में 3-3, लाडनूं और नागौर में 4-4, मकराना, मौलासर, मूंडवा, डेगाना के बुटाटी व नावां में 1-1 मानसिक रोग जांच एवं उपचार शिविर लगाए जा चुके है।

इस माह लगेंेगे 5 शिविर

एनएचएम के जिला आईईसी समन्वयक हेमंत उज्जवल ने बताया कि राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत इस माह में 5 जगहों पर जांच एवं उपचार शिविर आयोजित किए जाएंगे। जिसमें राजकीय अस्पताल कुचामन में 7 अगस्त को, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जायल में 9, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मकराना में 14 को, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेड़ता सिटी में 23 अगस्त तथा 29 अगस्त को नागौर में रोजा पीर दरगाह एवं कच्ची बस्ती लुहारपुरा में मनोरोगियों की जांच एवं उपचार शिविर आयोजित किए जाएंगे।