Hindi News »Rajasthan »Mukundgarh» दो पक्षों में विवाद मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, चार अप्रैल को मंडावा बंद का आह्वान

दो पक्षों में विवाद मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, चार अप्रैल को मंडावा बंद का आह्वान

बैठक में मौजूद लाेगों ने मारपीट की घटना की निंदा की। भास्कर न्यूज | मंडावा कस्बे में शनिवार रात दो पक्षों में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 05:35 AM IST

दो पक्षों में विवाद मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, चार अप्रैल को मंडावा बंद का आह्वान
बैठक में मौजूद लाेगों ने मारपीट की घटना की निंदा की।

भास्कर न्यूज | मंडावा

कस्बे में शनिवार रात दो पक्षों में हुए झगड़े के बाद रविवार को शांति रही। इस संबंध में क्रॉस मामले दर्ज हुए हैं। पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर एक दिन के रिमांड पर लिया है। पुलिस गश्त जारी रही। हमले के विरोध में चार अप्रैल को मंडावा बंद का आह्वान किया गया है। दरअसल कस्बे में शनिवार रात को दो पक्षों में झगड़ा हो गया था। तीन युवक घायल हो गए थे। पुलिस ने अनवर अली, इकबाल, राकेश मेघवाल, इदरीश को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को रविवार को नवलगढ़ में न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया। थाना प्रभारी भंवरलाल कुमावत गश्त करते रहे। मुकुंदगढ़ थाना प्रभारी भी तैनात रहे। डीएसपी आहद खान, एएसपी नरेश कुमार मीणा थाने पहुंचे। लोगों से बातचीत की। शनिवार के झगड़े में तीन युवक घायल हो गए थे। घायल जितेंद्र उर्फ जीतू को झुंझुनूं रैफर किया गया, जहां इलाज चल रहा है। इस संबंध में तीन मामले दर्ज हुए। वार्ड 7 निवासी विकास सैनी उर्फ बंटी ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि शनिवार रात करीब आठ बजे वह फतेहपुर बस स्टैंड पर बैठा था। इसी दौरान इकबाल व इदरीश समेत करीब 10-15 लोग आए और उससे मारपीट की। उसने उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है। घायल जितेंद्र सिंह ने पर्चा बयान में बताया कि वह सुभाष चौक पर दुकानदारी करता है। उसके पास दीपक खांडल का फोन आया कि विकास सैनी के साथ फतेहपुर स्टैंड पर कुछ लड़के मारपीट कर रहे हैं। वहां पहुंचने पर पता चला कि मारपीट करने वाले युवक ढिगाल रोड चले गए। वहां वह प्रविंद्र जांगिड़ के साथ हम उन लोगों से बातचीत करने गए। इसी दौरान रामजीलाल घर के पास इकबाल, इदरीश, सोयल सादिक भाटी व अन्य 10 -15 लोग खड़े थे। विकास के साथ मारपीट की बातचीत करने पर उन्होंने लाठियों से जानलेवा हमला कर दिया।

दूसरी ओर वार्ड 9 निवासी मोहम्मद इकबाल ने रिपोर्ट दी कि वह और परिजन घर पर थे। इसी दौरान जितेंद्र उर्फ जीतू, शुभम शर्मा, अजय बागड़ी प्रमिंद्र जांगिड़, अक्षय बागड़ी, विकास व चालीस-पचास कार्यकर्ता गाली-गलौच करते हुए हथियार लेकर हमसे मारपीट करने लगे। इस दौरान घर पर वह, उसका भाई इदरीश व चाचा अनवर व उसका दोस्त राकेश कुमार थे। चीख सुनकर पड़ोसियों ने बचाव किया। इस बीच कस्बे में शांति बनाए रखने के लिए रविवार को दिन भर पुलिस चौकस रही।

इधर, कस्बे के सीताराम मंदिर में रावणा राजपूत समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष विक्रम सिंह कुमास की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें मारपीट की घटना की निंदा की गई। बैठक में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर 4 अप्रैल को कस्बे का बाजार बंद रखने का फैसला लिया गया। इस अवसर पर करणी सेना जिला उपाध्यक्ष रवींद्र सिंह तोलियासर, रावणा राजपूत जिला महामंत्री कृष्ण सिंह, नरेश सिंह नवलगढ़, रवींद्र शर्मा, जितेंद्र सुरोलिया, जितेंद्र सिंह बुगाला, उदय सिंह, मधुसूदन स्वामी, अशोक सिंह बुगाला,रवींद्र सिंह, विक्रम सिंह डूंडलोद, किशाेर सिंह जाटू, दिनेश सिंह रणजीरोत, हरि सिंह नरूका, राजेंद्र सिंह नरूका समेत अनेक लोग मौजूद थे।

पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mukundgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×