Hindi News »Rajasthan »Mukundgarh» छह दिन बाद भी हाथ नहीं आए चोर, व्यापारियों ने दुकानें बंद रख की सभा, समझाइश के बाद बेमियादी बंद टाला

छह दिन बाद भी हाथ नहीं आए चोर, व्यापारियों ने दुकानें बंद रख की सभा, समझाइश के बाद बेमियादी बंद टाला

चोरी की वारदात के बाद से नाराज मंडी के व्यापारियों ने बुधवार को दुकानें बंद रख रेलवे स्टेशन के निकट सभा की। पुलिस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:10 PM IST

चोरी की वारदात के बाद से नाराज मंडी के व्यापारियों ने बुधवार को दुकानें बंद रख रेलवे स्टेशन के निकट सभा की। पुलिस की कार्यशैली को लेकर व्यापारियों ने नाराजगी जताते हुए सुरक्षा की मांग की। हालांकि अन्य प्रतिष्ठान महीने के आखरी दिन बंद रहते हैं मगर इस बार चोरी की वारदात के बाद गल्ला व्यापारियों भी अन्य व्यापारियों के साथ होकर बंद का एेलान कर दिया था। बुधवार सुबह रेलवे स्टेशन के निकट व्यापारियों ने सभा की। सभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी नेता विजेंद्र सिंह डोटासरा ने वारदात का खुलासा नहीं होने पर आमरण अनशन की चेतावनी दी। नगर पालिका चेयरमैन सत्यनारायण सैनी समेत पार्षदों ने विरोध जताते हुए व्यापारियों को पूर्ण समर्थन का भरोसा दिलाया। वक्ताओं ने पुलिस से वारदात का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। पार्षद प्रतिनिधि पंडित आदित्य नारायण सुरोलिया ने थाने में सिपाहियों की नफरी बढ़ा कर अतिरिक्त होमगार्ड जवानों के साथ पैदल गश्त करने की मांग की।

बंद की सूचना पर मौके पर पहुंचे एसएचओ भंवरसिंह पूनिया ने व्यापारियों से वार्ता की तथा अब तक की प्रगति बताई। एसएचओ ने व्यापारियों से समय और मांगा तो व्यापारियों ने सात दिन का समय देने पर सहमति बनी। समझाइश के बाद व्यापारियों ने सात दिन तक अनिश्चतकालीन बंद टाल दिया। गल्ला व्यापार मंडल अध्यक्ष राकेश सिंगड़ोदिया, कैलाश मूंदड़ा, सुनील साबू, ब्रह्मदत्त बेरीवाला, रामगोपाल सिंगड़ोदिया, सुरेंद्र सिंह शेखावत, योगेश सैनी, महेश गोयल, मनोज गोयल, रतन सिंह सोलंकी, प्रदीप मोदी, नरेश चौधरी, सुशील जगनाणी, गणपति मार्केट के कैलाशचंद्र जाखड़, गुगनराम पिलानिया, मो रहीश पठान, मौजूद थे। गौरतलब है कि मंडी में 25 जनवरी की रात चोरों ने रेलवे स्टेशन के निकट 13 दुकानों के ताले तोड़ गल्ले व काऊंटरों को खंगाल नकदी पार कर दी थी जिससे व्यापारियों में आक्रोश है।

मुकुंदगढ़. नाराज व्यापारियों से समझाइश करते एसएचओ

भास्कर न्यूज | मुकुंदगढ़

चोरी की वारदात के बाद से नाराज मंडी के व्यापारियों ने बुधवार को दुकानें बंद रख रेलवे स्टेशन के निकट सभा की। पुलिस की कार्यशैली को लेकर व्यापारियों ने नाराजगी जताते हुए सुरक्षा की मांग की। हालांकि अन्य प्रतिष्ठान महीने के आखरी दिन बंद रहते हैं मगर इस बार चोरी की वारदात के बाद गल्ला व्यापारियों भी अन्य व्यापारियों के साथ होकर बंद का एेलान कर दिया था। बुधवार सुबह रेलवे स्टेशन के निकट व्यापारियों ने सभा की। सभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी नेता विजेंद्र सिंह डोटासरा ने वारदात का खुलासा नहीं होने पर आमरण अनशन की चेतावनी दी। नगर पालिका चेयरमैन सत्यनारायण सैनी समेत पार्षदों ने विरोध जताते हुए व्यापारियों को पूर्ण समर्थन का भरोसा दिलाया। वक्ताओं ने पुलिस से वारदात का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। पार्षद प्रतिनिधि पंडित आदित्य नारायण सुरोलिया ने थाने में सिपाहियों की नफरी बढ़ा कर अतिरिक्त होमगार्ड जवानों के साथ पैदल गश्त करने की मांग की।

बंद की सूचना पर मौके पर पहुंचे एसएचओ भंवरसिंह पूनिया ने व्यापारियों से वार्ता की तथा अब तक की प्रगति बताई। एसएचओ ने व्यापारियों से समय और मांगा तो व्यापारियों ने सात दिन का समय देने पर सहमति बनी। समझाइश के बाद व्यापारियों ने सात दिन तक अनिश्चतकालीन बंद टाल दिया। गल्ला व्यापार मंडल अध्यक्ष राकेश सिंगड़ोदिया, कैलाश मूंदड़ा, सुनील साबू, ब्रह्मदत्त बेरीवाला, रामगोपाल सिंगड़ोदिया, सुरेंद्र सिंह शेखावत, योगेश सैनी, महेश गोयल, मनोज गोयल, रतन सिंह सोलंकी, प्रदीप मोदी, नरेश चौधरी, सुशील जगनाणी, गणपति मार्केट के कैलाशचंद्र जाखड़, गुगनराम पिलानिया, मो रहीश पठान, मौजूद थे। गौरतलब है कि मंडी में 25 जनवरी की रात चोरों ने रेलवे स्टेशन के निकट 13 दुकानों के ताले तोड़ गल्ले व काऊंटरों को खंगाल नकदी पार कर दी थी जिससे व्यापारियों में आक्रोश है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mukundgarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: छह दिन बाद भी हाथ नहीं आए चोर, व्यापारियों ने दुकानें बंद रख की सभा, समझाइश के बाद बेमियादी बंद टाला
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Mukundgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×