• Home
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • डेटा सुरक्षा के लिए यूजर्स को जागरूक किया जाए: नैसकॉम
--Advertisement--

डेटा सुरक्षा के लिए यूजर्स को जागरूक किया जाए: नैसकॉम

सोशल मीडिया के जरिए व्यक्तिगत सूचनाओं की चोरी और उसके दुरुपयोग पर जारी बहस के बीच भारतीय आईटी कंपनियों के के शीर्ष...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:25 AM IST
सोशल मीडिया के जरिए व्यक्तिगत सूचनाओं की चोरी और उसके दुरुपयोग पर जारी बहस के बीच भारतीय आईटी कंपनियों के के शीर्ष संगठन नैसकॉम ने सोशल मीडिया पर जानकारी शेयर करने के मामले में लोगों को जागरूक करने के लिए बहुस्तरीय अभियान चलाने की वकालत की है।

नैसकॉम प्रेसिडेंट आर चंद्रशेखर ने कहा, ‘यूजर्स की नई पीढ़ी और डिजिटल क्षेत्र में नए आर्थिक स्तर को देखते हुए इस तरह के केंद्रित अभियानों की जरूरत महसूस की जा रही है। जहां तक नागरिकों का सवाल है तो जोखिमों को लेकर जागरूकता फैलाने की जरूरत है। अन्य देशों की तुलना में भारत में इस तरह के अभियान की जरूरत ज्यादा है क्योंकि हमारे यहां सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाली एक नई पीढ़ी है, तो डिजिटल स्पेस में पहली बार नया आर्थिक स्तर सामने आ रहा है।’ नैसकॉम का यह तब आया है फेसबुक यूजर्स से जुड़ी जानकारी लीक होने का मामला चर्चा में है।

देबजानी घोष नैसकॉम की अगली प्रेसिडेंट होंगी

देबजानी घोष नैसकॉम की अगली प्रेसिडेंट होंगी। नैसकॉम प्रेसिडेंट चंद्रशेखर का कार्यकाल 31 मार्च 2018 को खत्म हो रहा है। नैसकॉम के तीन दशक के इतिहास में देबजानी यह पद संभालने वाली पहली महिला होंगी। इससे पहले वह इंटेल साउथ एशिया की एमडी रह चुकी हैं। उन्हें इंटेल में दो दशक से ज्यादा काम करने का अनुभव है। हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी से पॉलिटिकल साइंस में ग्रेजुएट देबजानी ने मुंबई के एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च से एमबीए किया है। 1996 में इंटेल से जुड़ने से पहले वह एडवर्टाइजिंग एजेंसी ओग्लिवी एंड मैथर के लिए भी काम कर चुकी हैं।