नागर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • कुम्हेर, सैह, मुढेरा व बूड़ली के विद्यालयों के निजीकरण के विरोध में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन
--Advertisement--

कुम्हेर, सैह, मुढेरा व बूड़ली के विद्यालयों के निजीकरण के विरोध में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

कस्बे के राजकीय माध्यमिक विद्यालय व गांव सैह के राजकीय माध्यमिक विद्यालय में निजीकरण के विरोध में ग्रामीणों एवं...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 05:55 AM IST
कस्बे के राजकीय माध्यमिक विद्यालय व गांव सैह के राजकीय माध्यमिक विद्यालय में निजीकरण के विरोध में ग्रामीणों एवं छात्र-छात्राओं द्वारा ताला लगा कर संयुक्त संघर्ष समिति पर्यवेक्षक गोपाल सिंह की अध्यक्षता में प्रदर्शन किया। राजकीय माध्यमिक विद्यालय पर ग्रामीण व स्कूली बच्चों ने गेट पर ताला लगाकर निजीकरण का विरोध कर नारे लगाए। कस्बेवासी लोगों ने कहा स्कूल की जमीन गोमती प्रसाद द्वारा दान की गई है। इस स्कूल का किसी भी शर्त पर निजीकरण नहीं होने देंगे। यह जमीन दानदाताओं एवं भामाशाह द्वारा दी गई है सरकार की नहीं है। प्रदर्शन के बाद पर्यवेक्षक गोपाल सिंह ने नगर पालिका चेयरमैन महेंद्र सिंह जाटव को ज्ञापन सौंपकर ताला खुलवाया। इसी प्रकार गांव सैह के राजकीय माध्यमिक विद्यालय में ग्रामीणों व छात्र-छात्राओं ने ताला लगाकर निजीकरण का विरोध किया। ग्रामीणों ने कहा स्कूल की जमीन ग्रामीणों द्वारा दान में दी गई है एवं कमरे भी भामाशाह द्वारा बनवाए गए हैं। इस स्कूल को किसी भी कीमत पर निजीकरण नहीं होने देंगे, इसके लिए हम संघर्ष के लिए तैयार हैं। स्कूल पर करीब आधा घंटा प्रदर्शन करने के बाद ग्रामीणों ने समझाइश कर स्कूल का ताला खुलवाया गया। इस मौके पर सुनील सोनी, किशन सोनी, धर्मवीर सिंह, गौरव फौजदार, अनु, रामसिंह, विष्णु, भगवान सिंह, विजय, मुकेश सिंगल, हरि सिंगल, पूर्व सरपंच लक्खा सिंह, रामअवतार, मुकेश, हंडू आदि मौजूद थे।

कुम्हेर. गांव सैह के स्कूल पर ग्रामीण एवं छात्र-छात्रा ने का विरोध करते हुए।

मुढेरा के माध्यमिक विद्यालय में ग्रामीणों ने ताला लगा कर जताया विरोध

नगर | क्षेत्र के गांव मुढेरा स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय को पीपीपी मॉडल पर देने के विरोध में ग्रामीणों द्वारा तालाबंदी की गई। गुरुवार की सुबह 9 बजकर 30 मिनट पर विद्यालय खुलने उपरांत ही ग्रामीणों ने स्टाफ व छात्र-छात्राओं को बाहर रोककर मुख्य दरवाजे पर ताला लगा दिया। इस मौके पर ग्रामीणों ने राज्य सरकार की ओर से उक्त विद्यालय को पीपीपी मॉडल पर देने का विराेध जताया। सूचना पर तरोडर स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के पीईईओ अमरचन्द बंसल व ललित भूषण शर्मा मौके पर पहुंचे। उन्होंने ताले को खोलकर विद्यालय की शिक्षण व्यवस्था को सुचारू कराने का आग्रह किया। लेकिन ग्रामीण एसडीएम व डीईओ के आने तक अनिश्चितकालीन तालाबंदी की बात पर अडे रहे। बाद में बीईईओ मानसिंह यादव द्वारा ग्रामीणों को आपसी समझाइश कर ताला खुलवाया गया। तालाबंदी के दौरान ग्रामीणों ने बीईईओ को डीईओ माध्यमिक के नाम ज्ञापन देकर मुढेरा स्थित माध्यमिक विद्यालय को पीपीपी माडल पर देने का विरोध जताया है। उक्त विद्यालय पर 9 बजकर 30 मिनिट से दोपहर करीब 12 बजे तक तालाबंदी रही। ज्ञात रहे कि राज्य सरकार की ओर से प्रथम चरण के तहत नगर ब्लॉक के मुढेरा, पाटका व बूडली स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालयों को पीपीपी माडल पर देने का निर्णय लिया है।

नगर. मुढेरा में राजकीय माध्यमिक विद्यालय पर ताला बंद होने पर बाहर बैठे बच्चे।

बूडली में एसएमसी सदस्यों व छात्रों ने किया प्रदर्शन

सीकरी |
बूड़ली के राउमावि को पीपीपी मॉडल पर देने के विरोध में विद्यालय में एसएमसी सदस्यों और छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया। एसएमसी अध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि सरकार गांव के सरकारी विद्यालय को निजी हाथों में देकर यहां के विद्यार्थियों के साथ अन्याय कर रही है। इस मामले में जल्द ही विधायक अनिता सिंह से मिलने का निर्णय लिया गया। इस अवसर पर सरपंच हाकमदीन, रविन्द्र कुमार,चेतराम सैनी,भाग सिंह, मुकेश पिप्पल, सुपन लाल आदि मौजूद थे।

X
Click to listen..