--Advertisement--

एपीपी के घर से रिवॉल्वर और 40 कारतूस चोरी

रुदावल। गांव ठिकरिया में चोरी की घटना के बाद बिखरा पड़ा सामान। भास्कर संवाददाता | रुदावल गांव ठिकरिया में...

Dainik Bhaskar

May 07, 2018, 05:15 AM IST
एपीपी के घर से रिवॉल्वर और 40 कारतूस चोरी
रुदावल। गांव ठिकरिया में चोरी की घटना के बाद बिखरा पड़ा सामान।

भास्कर संवाददाता | रुदावल

गांव ठिकरिया में अज्ञात चोरों ने एपीपी के सूने मकान के कमरे का ताला तोड़कर सूटकेस व बक्से में रखी लाइसेंसी रिवॉल्वर, 40 कारतूस एवं पचार हजार रुपए चोरी कर ले गए। जब एपीपी रविवार शाम को मकान पर आया तो उसे घटना के बारे में पता चला।

गांव ठिकरिया निवासी अमरजीतसिंह पुत्र वरियामसिंह सरदार श्रीगंगानगर में एपीपी के पद पर कार्यरत है। उनका परिवार भी श्रीगंगानगर में रहता है। एपीपी ने अपने खेत को फसल बंटवारे पर दे रखा है। चार-पांच दिन पहले एपीपी फसल के रुपए लेने के लिए अकेला ही गांव आया था। शनिवार को वह अपने मित्र पप्पू डागुर से मिलने के लिए झील का बाड़ा चला गया। रात्रि को वह मित्र के घर रुक गया। पीछे से अज्ञात चोरों ने सूने मकान की सीढिय़ों में होकर अंदर घुसकर कमरे का ताला तोड़ दिया और सूटकेस में रखी लाइसेंसी 32 बोर रिवॉल्वर, 40 कारतूस एवं बक्सा में रखे पचास हजार रुपए, घडी को चोरी कर ले गए। रविवार शाम को एपीपी वापस घर आया तो वह मुख्य गेट का ताला खोलकर अंदर घुसा तो कमरे का ताला टूटा मिला। कमरे में सूटकेस व बक्सा के भी ताले टूटे मिले। जिसमें रिवॉल्वर , कारतूस एवं पचास रुपए व घड़ी गायब मिली। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। समाचार लिखे जाने तक घटना के संबंध में मामला दर्ज नहीं हुआ है। फसल के रुपए लेने गांव आया था एपीपी- एपीपी अमरजीतसिंह ने बताया कि उसका परिवार कई वर्षों से श्रीगंगानगर में रहता है। उसने गांव के खेत को फसल के बंटवारे पर दे रखा है। फसल के रुपए लेने के लिए वह अकेला ही चार-पांच दिन पूर्व गांव आया था। उसने पचास हजार रुपए लेकर बक्सा में रख दिए। जबकि अन्य से भी फसल लेनी थी। काफी दिन बाद श्रीगंगानगर से गांव आने पर वह शनिवार दोपहर को अपने मित्र से मिलने के लिए झीलकाबाड़ा के पास कोरी नगरा मिलने चला। वहां पर रात्रि को रुक गया। जाते समय वह रिवॉल्वर व कारतूस को सूटकेस रखकर गया था।

X
एपीपी के घर से रिवॉल्वर और 40 कारतूस चोरी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..