Hindi News »Rajasthan »Nagar» गिलगित-बाल्टिस्तान पर पाक के आदेश-2018 पर चीन ने साधी चुप्पी, कहा- कश्मीर मामला दोनों देश आपस में सुलझाएं

गिलगित-बाल्टिस्तान पर पाक के आदेश-2018 पर चीन ने साधी चुप्पी, कहा- कश्मीर मामला दोनों देश आपस में सुलझाएं

बीजिंग | चीन ने गिलगित-बाल्टिस्तान पर प्रशासनिक नियंत्रण से संबंधित पाकिस्तान के आदेश-2018 पर टिप्पणी करने से इनकार...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 30, 2018, 05:15 AM IST

बीजिंग | चीन ने गिलगित-बाल्टिस्तान पर प्रशासनिक नियंत्रण से संबंधित पाकिस्तान के आदेश-2018 पर टिप्पणी करने से इनकार किया है। चीन ने सीपीईसी को लेकर कहा कि इसके कारण कश्मीर मुद्दे पर उसका रुख प्रभावित नहीं होगा। कश्मीर मुद्दे का समाधान भारत और पाकिस्तान को आपस में करना चाहिए। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि कश्मीर मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच “ऐतिहासिक समस्या’ है, इसलिए इसका हल दोनों देशों को बातचीत से निकालना चाहिए।

गिलगित-बाल्टिस्तान को लेकर पाकिस्तान के ताजा कदम के बारे में पूछे जाने पर चुनयिंग ने कहा कि बीजिंग का यह रुख है कि कश्मीर मुद्दे का हल दोनों देशों के बीच होना चाहिए। साथ ही गिलगित और बाल्टिस्तान से गुजरने वाले 50 अरब डॉलर के चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीईपीसी) से उसका यह रुख प्रभावित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हमने कई बार जोर दिया है कि सीपीईसी आर्थिक सहयोग के लिए एक पहल है। पाकिस्तान की कैबिनेट ने 21 मई को गिलगित-बाल्टिस्तान आदेश-2018 को मंजूरी दी है। क्षेत्र की विधानसभा ने भी इसका समर्थन किया है।









कहा जा रहा है कि पाकिस्तान का यह आदेश विवादित क्षेत्र को अपने पांचवें प्रांत के रूप में शामिल करने का प्रयास है। भारत ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और कहा कि पूरा जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है तथा गिलगित-बाल्टिस्तान कश्मीर का ही हिस्सा है। गिलगित-बाल्टिस्तान के नागरिक संगठन और लोगों में पाकिस्तान सरकार के इस आदेश को लेकर आक्रोश है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×