नागर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • डीलर तक नहीं पहुंच पाने वाले वरिष्ठों व दिव्यांगाें को घर बैठे मिलेगा राशन
--Advertisement--

डीलर तक नहीं पहुंच पाने वाले वरिष्ठों व दिव्यांगाें को घर बैठे मिलेगा राशन

आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए राज्य सरकार पूरी तरह से चुनावी मोड में आ गई है। इसी के चलते राशन की दुकान पर नहीं...

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2018, 05:15 AM IST
आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए राज्य सरकार पूरी तरह से चुनावी मोड में आ गई है। इसी के चलते राशन की दुकान पर नहीं पहुंचने वाले वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को प्रतिमाह फूड कूपन दिलाने की दिशा में काम शुरु कर दिया है, ताकि ये लोग घर बैठे राशन प्राप्त कर सकें और पूरे परिवार को राहत मिल सकें।

राज्य सरकार ने प्रदेश के 33 हजार 762 वरिष्ठ नागरिक एवं दिव्यांगाें को चिन्हित किया है जो खाद्य सुरक्षा योजना में शामिल हैं लेकिन किन्ही कारणों से राशन नहीं ले पा रहे हैं। ऐसे लोगों को राज्य सरकार प्रति वर्ष 12 फूड कूपन देगी। ये कूपन योजना पहली बार प्रदेश में लागू हुई है। ये लोग डीलर से अपने कूपन प्राप्त कर सकेंगे और डीएसओ इसकी निगरानी करेंगे। इन फूड कूपन के जरिये लाभार्थी अपने रिश्तेदार, पड़ोसी या अन्य किसी व्यक्ति के माध्यम से अपना राशन घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे। ये खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले की योजना है।

विभागीय ने इस योजना को लागू कराने से लेकर इसकी प्रभावी मॉनिटरिंग के लिए सभी जिला रसद अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए है। इस योजना के तहत भविष्य में और नाम भी जोड़े जा सकते हैं। इस दिशा में भी जल्द ही नई पॉलिसी भी जारी हो सकती है। इस नई पाॅलिसी से दिव्यांगों को फायदा मिल सकेगा।

पॉलिटिकल रिपोर्टर| जयपुर

आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए राज्य सरकार पूरी तरह से चुनावी मोड में आ गई है। इसी के चलते राशन की दुकान पर नहीं पहुंचने वाले वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को प्रतिमाह फूड कूपन दिलाने की दिशा में काम शुरु कर दिया है, ताकि ये लोग घर बैठे राशन प्राप्त कर सकें और पूरे परिवार को राहत मिल सकें।

राज्य सरकार ने प्रदेश के 33 हजार 762 वरिष्ठ नागरिक एवं दिव्यांगाें को चिन्हित किया है जो खाद्य सुरक्षा योजना में शामिल हैं लेकिन किन्ही कारणों से राशन नहीं ले पा रहे हैं। ऐसे लोगों को राज्य सरकार प्रति वर्ष 12 फूड कूपन देगी। ये कूपन योजना पहली बार प्रदेश में लागू हुई है। ये लोग डीलर से अपने कूपन प्राप्त कर सकेंगे और डीएसओ इसकी निगरानी करेंगे। इन फूड कूपन के जरिये लाभार्थी अपने रिश्तेदार, पड़ोसी या अन्य किसी व्यक्ति के माध्यम से अपना राशन घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे। ये खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले की योजना है।

विभागीय ने इस योजना को लागू कराने से लेकर इसकी प्रभावी मॉनिटरिंग के लिए सभी जिला रसद अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए है। इस योजना के तहत भविष्य में और नाम भी जोड़े जा सकते हैं। इस दिशा में भी जल्द ही नई पॉलिसी भी जारी हो सकती है। इस नई पाॅलिसी से दिव्यांगों को फायदा मिल सकेगा।

X
Click to listen..