• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagar
  • 2 साल से बिना मान्यता के चलता रहा स्कूल, शिकायत हुई तो अब जुर्माना व एफआईआर
--Advertisement--

2 साल से बिना मान्यता के चलता रहा स्कूल, शिकायत हुई तो अब जुर्माना व एफआईआर

Nagar News - शिक्षा का अधिकार कानून के तहत कोई भी व्यक्ति बिना मान्यता के स्कूल संचालित नहीं कर सकता, लेकिन राजधानी जयपुर में...

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 05:15 AM IST
2 साल से बिना मान्यता के चलता रहा स्कूल, शिकायत हुई तो अब जुर्माना व एफआईआर
शिक्षा का अधिकार कानून के तहत कोई भी व्यक्ति बिना मान्यता के स्कूल संचालित नहीं कर सकता, लेकिन राजधानी जयपुर में ही इस कानून का मखौल उड़ाते हुए दो साल से एक निजी स्कूल बिना मान्यता चलता रहा है। शिक्षा विभाग के पास स्कूल की शिकायत पहुंचने पर जांच हुई तो मामला सही पाया गया। अब विभाग ने स्कूल पर 1 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है और उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी में है।

मामला रांकड़ी सोडाला के लक्ष्मीनगर में चल रहे ब्राइटमून डे बोर्डिंग स्कूल का है। आठवीं तक संचालित यह स्कूल वर्ष 2016 से संचालित बताया जा रहा है। जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक कार्यालय के पास जब स्कूल के बिना मान्यता चलने की शिकायत पहुंची तो दो सदस्यीय जांच कमेटी बैठा दी गई। जांच कमेटी रिपोर्ट में सामने आया कि स्कूल बिना मान्यता ही संचालित हैं।

इसके बाद डीईओ कार्यालय ने स्कूल को नोटिस जारी कर कहा कि शिक्षा का अधिकार कानून के तहत बिना मान्यता स्कूल संचालित नहीं जा सकता। अगर ऐसा पाया जाता है तो स्कूल पर कानून की धारा 5 उपसेक्शन 18 के तहत एक लाख रुपए जुर्माना है। इसके बाद भी अगर स्कूल संचालित रहता है तो 10 हजार रुपए प्रतिदिन का जुर्माना लगेगा। स्कूल प्रशासन को 22 मई को नोटिस जारी किया गया था। लेकिन स्कूल ने इस नोटिस का जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा। इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय ने ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा कार्यालय को स्कूल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश जारी किए।

सत्र 2016-17 से चल रहा था स्कूल, नोटिस मिला तो अब कर दिया बंद

डीईओ कार्यालय की जांच में सामने आया कि स्कूल दो साल से चल रहा था। राजधानी जयपुर में ही दो साल तक स्कूल बिना मान्यता संचालित हो जाता है और शिक्षा विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगती। इससे विभाग भी सवालों के घेरे में आ जाता है। जांच में सामने आया था कि स्कूल 2016 से संचालित है। इसको आधार माना जाए तो सत्र 2016-17 और 2017-18 में यानी स्कूल दो सत्रों में संचालित रहा। अब जब नोटिस जारी किया गया तो संचालक ने स्कूल बंद कर दिया।

ब्राइटमून डे बोर्डिंग स्कूल की जांच कराई थी। इसमें वह बिना मान्यता के संचालित पाया गया। इसके बाद उसको नोटिस देकर जुर्माने के बारे में बता दिया गया था। नोटिस का जवाब देने स्कूल से कोई नहीं आया। अब स्कूल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश जारी किए गए हैं। -सुरेश जैन, जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा

मुझे जानकारी नहीं थी कि स्कूल के संचालन से पहले मान्यता की जरूरत पड़ती है। जब जानकारी मिली तो मैं मान्यता के लिए आवेदन इसलिए नहीं कर पाया कि आवेदन की तारीख निकल चुकी थी। विभाग ने नोटिस जारी किया तो मैंने स्कूल बंद कर दिया। एक लाख रुपए का जुर्माना जल्दी ही जमा करा दूंगा। -सीताराम कुमावत, प्रिंसिपल, ब्राइटमून डे बोर्डिंग स्कूल लक्ष्मीनगर रांकड़ी

X
2 साल से बिना मान्यता के चलता रहा स्कूल, शिकायत हुई तो अब जुर्माना व एफआईआर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..