नागर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • आवारा पशुओं को पकड़ने वाली फर्म ने छह माह से भुगतान ही नहीं उठाया, नोटिस
--Advertisement--

आवारा पशुओं को पकड़ने वाली फर्म ने छह माह से भुगतान ही नहीं उठाया, नोटिस

जयपुर| नगर निगम से आवारा पशुओं काे पकड़ने वाली मैसर्स प्रिंस एंटरप्राइजेज ने नगर निगम से छह माह का भुगतान नहीं...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 05:20 AM IST
जयपुर| नगर निगम से आवारा पशुओं काे पकड़ने वाली मैसर्स प्रिंस एंटरप्राइजेज ने नगर निगम से छह माह का भुगतान नहीं उठाया। भुगतान के बिलों को पेश करने को लेकर आयुक्त रवि जैन ने मई में कंपनी को नोटिस जारी कर भुगतान के बिल पेश करने को कहा है। अनुबंध के अनुसार संसाधन नगर निगम के होते है जबकि प्रिंस एंटरप्राइजेज का काम वाहनों पर पशु पकड़ने वाले आदमी सौंपना है। इस पर कंपनी को 345 रुपए प्रति बड़ा पशु और 89 रुपए प्रति छोटा पशु भुगतान तय है। वहीं कंपनी पर भी आवारा पशु विचरण करते पाए जाने पर 500 रुपए प्रति पशु जुर्माना लगाना तय किया हुआ है। प्रिंस एंटरप्राइजेज को अगस्त 2017 में नगर निगम ने ठेका दिया था। अनुबंध की शर्तों का उल्लंघन करने पर अतिरिक्त आयुक्त डॉ. हरसहाय मीणा ने कंपनी काे नवंबर 2017 नोटिस देकर ठेका निरस्त करने को कहा। इसके बाद लगातार नोटिस दिए लेकिन कंपनी पर कार्रवाई नहीं की गई।

चार दिन बाद बदला अपना ही आदेश

अतिरिक्त आयुक्त डा. हरसहाय मीणा को बुधवार को अपने द्वारा 8 जून काे निकाले आदेश को चार दिन बाद बुधवार को बदल दिया। पूर्व आदेश में बताया था कि आवारा पशु को पकड़ने में नगर निगम के किसी भी अधिकारी द्वारा हस्तक्षेप नहीं किया जाए। अब आदेश पलटते हुए प्रभारी आवारा पशु नियंत्रण राकेश गुप्ता को आवारा पशु को पकड़वाने और अवैध डेयरियों पर कार्रवाई करने का प्रभारी बनाते हुए फर्म की मॉनिटरिंग के आदेश दिए है। साथ ही प्रतिदिन आवारा पशु पकड़ने की रिपोर्ट मांगी है।

X
Click to listen..