• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के चारों ओर हो रहे निर्माण पर हाईकोर्ट ने केन्द्र व राज्य से जवाब मांगा
--Advertisement--

पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के चारों ओर हो रहे निर्माण पर हाईकोर्ट ने केन्द्र व राज्य से जवाब मांगा

हाईकोर्ट ने पुष्कर के जगतपिता ब्रह्मा मंदिर के चारों ओर राज्य सरकार की ओर से प्रसाद योजना के तहत किए जा रहे...

Dainik Bhaskar

Jun 08, 2018, 05:25 AM IST
हाईकोर्ट ने पुष्कर के जगतपिता ब्रह्मा मंदिर के चारों ओर राज्य सरकार की ओर से प्रसाद योजना के तहत किए जा रहे निर्माण के मामले में राज्य के मुख्य सचिव, यूडीएच सचिव, राजस्थान सड़क विकास निगम के प्रोजेक्ट निदेशक, अजमेर कलेक्टर, पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग भारत सरकार , राज्य के पुरातत्व एवंं संग्रहालय विभाग सहित नगर पालिका पुष्कर को नोटिस जारी कर दो सप्ताह में जवाब मांगा है। अवकाशकालीन न्यायाधीश इंद्रजीत सिंह ने यह अंतरिम आदेश गुरुवार को ब्रह्मा मंदिर के महंत स्वामी योगेंद्र पुरी की याचिका पर दिया। याचिका में कहा कि ब्रह्मा मंदिर को गजट नोटिफिकेशन जारी कर 4 मार्च 2005 को प्राचीन स्मारक घोषित किया गया था। साथ ही भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण जयपुर ने भी आम सूचना जारी कर राष्ट्रीय महत्व के स्मारक को प्रतिबंधित क्षेत्र की श्रेणी में मानते हुए इसके सौ मीटर की परिधि में निर्माण पर रोक लगा रखी है। फिर भी राज्य सरकार की ओर से प्रसाद योजना के तहत 10 अक्टूबर 2017 को मंदिर के चारों तरफ एंट्री प्लाजा के नाम से निर्माण शुरू किया गया है। निर्माण की लागत 24 करोड़ रुपए से अधिक है।

याचिका में कहा कि प्रतिबंधित निर्माण क्षेत्र होने के बावजूद भी राज्य सरकार स्वयं यहां अवैध निर्माण करवा रही है। जबकि हाईकोर्ट की खंडपीठ ने 30 अप्रैल 2018 को प्रबुद्ध मंच अजमेर बनाम राज्य सरकार मामले में निर्णय दिया है कि संरक्षित पुरा स्मारकों के सौ मीटर के दायरे में निर्माण करना अवैध है। इसलिए मंदिर के चारों हो रहे निर्माण पर रोक लगाई जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..