• Home
  • Rajasthan News
  • Nagar News
  • बच्चे गुमराह हुए, इसलिए 10 हजार लोगों पर से पत्थरबाजी के केस हटाए : गृह मंत्री
--Advertisement--

बच्चे गुमराह हुए, इसलिए 10 हजार लोगों पर से पत्थरबाजी के केस हटाए : गृह मंत्री

स्पोर्ट्स कॉनक्लेव में राजनाथ सिंह ने 10 साल की तजामुल हसन को भी सम्मानित किया। बांदीपोरा की तजामुल ने 2016 में इटली...

Danik Bhaskar | Jun 08, 2018, 05:25 AM IST
स्पोर्ट्स कॉनक्लेव में राजनाथ सिंह ने 10 साल की तजामुल हसन को भी सम्मानित किया। बांदीपोरा की तजामुल ने 2016 में इटली में हुई वर्ल्ड किक बॉक्सिंग चैंपियनशिप जीती थी। गृह मंत्री से मिलते समय तजामुल उनसे लिपट गई। फिर साथ में सेल्फी भी ली।

पाक पर: आतंक के खात्मे के लिए हम मदद को तैयार

घाटी में पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए राजनाथ ने कहा कि हमारा पड़ोसी देश अपनी सरजमीं पर आतंक को रोकने की बात कहता है, लेकिन आज तक इस दिशा में ऐसे गंभीर प्रयास नहीं हुए हैं। ऐसे में अगर पाकिस्तान को आतंकी गतिविधि रोकने में कोई परेशानी हो तो उसे हमारे देश से मदद भी लेनी चाहिए। हम कश्मीर मुद्दे का समाधान गाली से नहीं गले लगाकर करना चाहते हैं।

हुर्रियत पर: बच्चों को पत्थर देकर गुमराह कर रहा है

अलगाववादियों पर निशाना साधते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि कुछ लोग घाटी के बच्चों को बरगला रहे हैं। यह लोग अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दे रहे हैं, जबकि घाटी के अन्य बच्चों के हाथ में पत्थर देकर उन्हें गुमराह किया जा रहा है। कश्मीर के बच्चों में बहुत प्रतिभा है और पिछले दिनों आईएएस और आईआईएम जैसी परीक्षाओं में यहां के युवाओं ने इसे साबित किया है। ये देश की तस्वीर बदल सकते हैं।

शांतिवार्ता पर: हम किसी भी पक्ष से बात करने को तैयार

कश्मीर में बातचीत के मुद्दे पर राजनाथ ने कहा कि हमने बातचीत के लिए विशेष वार्ताकार की नियुक्ति की है। दिनेश्वर शर्मा 11 बार तमाम पक्षकारों से बात करने के लिए आए हैं। घाटी में शांति बहाली के लिए हम किसी से भी बात करने को तैयार हैं, चाहे वह हमारी सोच का हो या ना हो। राजनाथ ने कहा कि घाटी में शांति बहाली के लिए लाइक माइंडेड से ज्यादा राइट माइंडेड होने की जरूरत है।