Hindi News »Rajasthan »Nagar» दुष्यंत को मारने वाली िप्रया 8 साल में 1000 लोगों को ब्लैकमेल कर चुकी

दुष्यंत को मारने वाली िप्रया 8 साल में 1000 लोगों को ब्लैकमेल कर चुकी

आनंदपाल गैंग की गैंगस्टर अनुराधा के बाद अपराध जगत में अब प्रिया सेठ एक और नाम जुड़ गया है। दुष्यंत मर्डर की...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 06, 2018, 05:35 AM IST

दुष्यंत को मारने वाली िप्रया 8 साल में 1000 लोगों को ब्लैकमेल कर चुकी
आनंदपाल गैंग की गैंगस्टर अनुराधा के बाद अपराध जगत में अब प्रिया सेठ एक और नाम जुड़ गया है। दुष्यंत मर्डर की सूत्रधार प्रिया सेठ ने लोगों को जाल में फंसाकर ठगने लिए एक वेबसाइट तक बना रखी है। उसकी मॉनिटरिंग ड्राइवर गणेश करता है। पूछताछ में प्रिया सेठ ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी प्रिया खुद की वेबसाइट से लोगों से अनैतिक काम के लिए संपर्क करती है और होटल तक पहुंचने के बाद उनको झांसे में लेकर पैसे लेकर फरार हो जाती है। प्रिया से पिछले पांच साल में 1000 से ज्यादा लोगों के साथ ठगी करने की वारदाते कबूली है। दरअसल, प्रिया सेठ के पिता सरकारी कॉलेज में लेक्चरर हैं। वह पाली से मानसरोवर स्थित एक निजी कॉलेज में ग्रेजुएशन करने 2011 में जयपुर आई थी। इस दौरान प्रिया की अनैतिक कामों में लिप्त शहर के एक नामचीन आरोपी के संपर्क में आ गई और धीरे-धीरे दलदल में घुस गई। प्रिया व दीक्षांत के फ्लैट पर एक बाईजी खाना बनाने आती थी। वह गुरुवार सुबह फ्लैट पर आई तो प्रिया ने उसको बाहर से भेज दिया और कहा कि आज बाहर खाना खाने जाएंगे। अपार्टमेंट में गार्ड रहता है, लेकिन आरोपियों ने शव को ठिकाने लगाने की भनक तक नहीं लगने दी।

ऐसे करती थी वारदातंे, 10 से 50 हजार रुपए लेकर भाग जाती थी

फंसाने के िलए बनाई वेबसाइट आरोपी प्रिया से लोग उसकी वेबसाइट पर अनैतिक काम करने के लिए संपर्क करते थे। वेबसाइट पर संपर्क के बाद लोगों से मिलने प्रिया अपने ड्राइवर गणेश के साथ पहुंच जाती थी। जहां पर प्रिया पहले लोगों से सौदा कर 10 से 50 हजार ले लेती थी और बाद में ड्राइवर को लेकर भाग जाती।

30 साल में तीनों बेटे खो िदए: दुष्यंत के पिता रामेश्वर शर्मा से अभागा कोई ओर नहीं होगा। एक-एक कर तीन बेटों की अर्थी को कंधा देकर उनकी आंखें पथरा गई हैं और हिम्मत दम तोड़ चुकी है। रामेश्वर ने बताया कि 30 साल पहले सबसे बड़ा बेटा हिमांशु महज डेढ़ साल की उम्र चल बसा। इसके बाद जब दुष्यंत और पियूष पैदा हुए तो जिंदगी फिर से पटरी पर लौटी, लेकिन 6 साल पहले सड़क दुर्घटना में पियूष की मौत हो गई। दुखों का पहाड़ छंटा भी न था कि अब बदमाशों ने दोस्त बनाकर चंद पैसों के लिए बुढ़ापे का आखिरी सहारा भी छीन लिया। दुष्यंत की चार साल पहले विनिता के साथ शादी हुई थी।

एटीएम लूट और पीटा एक्ट में हो चुकी गिरफ्तार

प्रिया सेठ को जयपुर कमिश्नरेट की पुलिस तीन दफा गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपी प्रिया को अपने साथियों के साथ मानसरोवर थाना पुलिस ने एटीएम लूट के आरोप में गिरफ्तार किया था। जबकि श्यामनगर थाना पुलिस अनैतिक काम करने और वैशालीनगर थाना पुलिस दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है। महंगी शराब पीने और गांजे की सिगरेट पीने का शौक था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×