• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagar
  • भ्रष्टाचार मामले में प्राचार्य और कैशियर को 10 साल की सजा
--Advertisement--

भ्रष्टाचार मामले में प्राचार्य और कैशियर को 10 साल की सजा

Dainik Bhaskar

May 10, 2018, 05:40 AM IST

Nagar News - भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट ने बुधवार को आरोपी संस्कृत महाविद्यालय बारां के तत्कालीन कार्यवाहक प्राचार्य...

भ्रष्टाचार मामले में प्राचार्य और कैशियर को 10 साल की सजा
भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट ने बुधवार को आरोपी संस्कृत महाविद्यालय बारां के तत्कालीन कार्यवाहक प्राचार्य विमलकांत त्रिपाठी और कैशियर भगवानलाल जैन को 10-10 साल की सजा सुनाई है। साथ ही दोनों पर 38-38 हजार का जुर्माना किया है। संस्कृत कॉलेज बारां के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रघुवीर माली सहित पांच छात्रों ने 8 मई 2003 को बारां एसीबी को शिकायत दर्ज कराई थी कि समाज कल्याण विभाग से 40 विद्यार्थियों को 36 सौ - 36 सौ रुपए की छात्रवृत्ति स्वीकृत हुई थी। संस्कृत महाविद्यालय के कार्यवाहक प्राचार्य विमलकांत त्रिपाठी और कैशियर भगवानलाल जैन प्रत्येक छात्रों से 11-11 सौ रुपए मांग रहे थे। इस पर उन्हींने छात्रों को 25-25 सौ रुपए तो दे दिए। लेकिन उन्होंने कागजों पर 36 सौ रुपए पर छात्रों से हस्ताक्षर करवा लिए। एसीबी ने जांच कर तलाशी की तो आलमारी में 45 हजार से अधिक की राशि मिल गई। इस पर वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सके।

पोषाहार के गेहूं-चावल बेचने के मामले में दो शिक्षक निलंबित

नैनवां (बूंदी) |
बच्चों को पोषाहार बांटने में गड़बड़ी और दुरुपयोग करने के मामले में डीईओ (मा.) ने दो शिक्षकों रामरतन नागर व मदनलाल नागर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। उपखंड के भजनेरी सीनियर सैकंडरी स्कूल का यह घटनाक्रम है। निलंबनकाल में शिक्षक रामरतन नागर का मुख्यालय सीनियर सैकंडरी स्कूल लालपुरा व मदनलाल नागर का सीनियर सैकंडरी स्कूल उलेड़ा में रहेगा। गौरतलब है कि 6 मई को भजनेरी सीनियर सैकंडरी स्कूल से पोषाहार का गेहूं व चावल के कट्टे एक पिकअप में भरकर ले जा रहे थे। इस दौरान सरपंच व ग्रामीणों ने पकड़ लिया था। साथ ही इसकी सूचना देई पुलिस को दी थी। पुलिस ने आकर 9 कट्टे गेहूं-चावल के साथ पिकअप को जब्त कर मामला दर्ज किया था। डीईओ तेजकंवर के निर्देश पर नैनवां बीईओ दुर्गालाल कारपेंटर, सीनियर सैकंडरी स्कूल नोडल प्रधानाचार्य दिनेश मीणा व व्याख्याता अनिल गोयल ने जांच की थी। ग्रामीणों व सरपंच के बयान लिए थे। इसके बाद जांच रिपोर्ट डीईओ को भेज दी थी। इस पर डीईओ ने बुधवार को दोनों शिक्षकों को निलंबित कर दिया।

X
भ्रष्टाचार मामले में प्राचार्य और कैशियर को 10 साल की सजा
Astrology

Recommended

Click to listen..