• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagar
  • मौसम विभाग का पूर्वानुमान है 15 जून के आस पास ही राजस्थान में प्रवेश करेगा मानसून
--Advertisement--

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है- 15 जून के आस-पास ही राजस्थान में प्रवेश करेगा मानसून

Nagar News - राज्य में एक बार फिर मानसून का इंतजार शुरू हो गया है। मौसम विभाग इस साल मानसून के निर्धारित तारीख 15 जून के आस-पास ही...

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 05:40 AM IST
मौसम विभाग का पूर्वानुमान है- 
 15 जून के आस-पास ही राजस्थान में प्रवेश करेगा मानसून
राज्य में एक बार फिर मानसून का इंतजार शुरू हो गया है। मौसम विभाग इस साल मानसून के निर्धारित तारीख 15 जून के आस-पास ही प्रदेश में प्रवेश करने और सामान्य रहने की बात कर रहा है।

मानसून कैसा रहेगा, यह तो वक्त ही बताएगा, लेकिन वर्ष 2008 से 2017 तक के पिछले दस साल के मानसूनी बारिश के आंकड़े राहत भरे हैं। भास्कर ने आंकड़ों की पड़ताल की ताे सामने आया कि बीते दस साल में केवल एक बार ही मानसून तय तिथि पर राजस्थान पहुंचा और बाकी सालों में 8 से 25 दिन तक लेट हुआ। इसके बावजूद दस में से आठ वर्षों में प्रदेश में मानसून औसत से ज्यादा बरसा। एक साल सामान्य बारिश हुई तो एक बार ही औसत से कम मानसूनी बारिश रही। जिस साल औसत से कम बारिश हुई वह वर्ष 2009 था। तब मानसून तय तिथि से 18 दिन बाद आया था और सामान्य से 34 प्रतिशत कम 283.5 मिमी बारिश करके गया था। प्रदेश में सामान्य बारिश का औसत आंकड़ा 419 मिलीमीटर है। वर्तमान में स्थिति यह है कि प्रदेश के कुछेक इलाकों को छोड़कर बाकी सभी स्थानों पर भीषण गर्मी का कहर जारी है।

दस वर्षों में नौ साल देरी से आया मानसून, फिर भी 8 बार औसत से ज्यादा हुई बरसात... केवल एक साल कम वर्षा

पिछले 10 साल में राज्य में मानसून की स्थिति

वर्ष मानसून आया इतने दिन लेट बारिश (मिमी) औसत से कम/ज्यादा (%)

2008 10 जुलाई 25 425 02

2009 03 जुलाई 18 283.50 -34

2010 03 जुलाई 18 538.60 28

2011 23 जून 08 539.50 28

2012 05 जुलाई 20 465.40 11

2013 15 जून तय तिथि पर 462.30 10

2014 07 जुलाई 22 420.40 00

2015 24 जून 09 457 09

2016 26 जून 11 536.40 28

2017 27 जून 12 454.90 09

इस बार लोगों को अच्छे मानसून के आसार हैं। मौसम विभाग द्वारा भी अब तक जारी किए गए आंकड़ों में अच्छे मानसून के आसार हैं।

बीते साल...

वर्ष 2017 में मानसून 12 दिन देरी से आया था लेकिन बारिश सामान्य से 9% ज्यादा रही। राजधानी जयपुर में पिछले साल सामान्य औसत से 35% कम बारिश हुई।

इन तीन साल में सबसे ज्यादा बारिश

वर्ष 2010, 2011 और 2016 में मानसून देरी से आया, लेकिन मानसूनी सीजन में सामान्य से ज्यादा 28% बरसात हुई। मानसून ने राजस्थान में 8 से 18 दिन देरी से प्रवेश किया था। इसके अलावा 2008 में 25 दिन की देरी से आया था। फिर भी सामान्य से 2% ज्यादा बारिश हुई।

इस साल भी मानसून के 15 जून के राजस्थान में प्रवेश का पूर्वानुमान है। यह डूंगरपुर और बांसवाड़ा की ओर से प्रवेश करेगा। राजधानी जयपुर में यह 26 जून तक आने की संभावना है। पूर्वानुमान से मानसून 2-3 दिन पहले या बाद में आ सकता है । -जी.एस. नगरालय, निदेशक, मौैसम केंद्र जयपुर

X
मौसम विभाग का पूर्वानुमान है- 
 15 जून के आस-पास ही राजस्थान में प्रवेश करेगा मानसून
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..