Hindi News »Rajasthan »Nagar» भूखंड में बेसमेंट की खुदाई के दौरान ढही दो मंजिला इमारत: तीन जिंदगियां, मौत को हरा, मलबे से बाहर निकलीं

भूखंड में बेसमेंट की खुदाई के दौरान ढही दो मंजिला इमारत: तीन जिंदगियां, मौत को हरा, मलबे से बाहर निकलीं

सरदारपुरा बी रोड पर मंगलवार को एक भूखंड पर बेसमेंट की खुदाई के दौरान समीप की दो मंजिला इमारत भरभरा कर ढह गई। हादसे...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 23, 2018, 05:50 AM IST

भूखंड में बेसमेंट की खुदाई के दौरान ढही दो मंजिला इमारत: तीन जिंदगियां, मौत को हरा, मलबे से बाहर निकलीं
सरदारपुरा बी रोड पर मंगलवार को एक भूखंड पर बेसमेंट की खुदाई के दौरान समीप की दो मंजिला इमारत भरभरा कर ढह गई। हादसे के समय इस इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर डिपार्टमेंट स्टोर में कुल 5 लोग थे, लेकिन एक युवती व महिला पीछे के दरवाजे से निकलने में कामयाब हो गए, लेकिन डिपार्टमेंट स्टोर का संचालक, एक कर्मचारी व एक ग्राहक मलबे में दब गए। इमारत ढहने की सूचना के बाद समूचा प्रशासन मौके पर पहुंचा आेर बचाव कार्य में जुट गया। इसके पहले फस्ट फ्लोर के सुरक्षित हिस्से में फंसी महिला व उसके चार माह के बच्चे को लोगों ने बाहर निकाल चुके थे। डेढ़ घंटे के बाद मलबा हटाने के दौरान डिपार्टमेंट के संचालक संजय कांकरिया को सुरक्षित बाहर निकालने में कामयाबी मिल गई। इसके बाद दो अन्य के मलबे में दबे होने की पुष्टि हुई तो बचाव कार्य तेज कर दिया। पत्थर का एक पाट हटते ही दो लोगों के जीवित होने की पुष्टि के बाद रेस्क्यू टीम दोगुने जोश से जुटी रही। आखिरकार पौन घंटे की मशक्कत के बाद ग्राहक सत्यनारायण व्यास को आैर इसके आधे घंटे बाद डिपार्टमेंट के कर्मचारी माधोसिंह को भी मलबे से सुरक्षित बाहर निकाल लिया। तीन घंटे तक चले इस बचाव कार्य में पहली बार ऐसा चमत्कार हुआ की तीन जिंदगियां माैत को मात देकर मलबे से सुरक्षित बाहर निकल आई तो उपस्थित भीड़ ने रेस्क्यू टीम का तालियां बजाकर हौंसला भी बढ़ाया। इसके बावजूद मलबे में दबे होने की आशंका को दूर करने के लिए रेस्क्यू टीम ने साउंड वेव यंत्र से जांच की आेर संतुष्टि के बाद मलबे को हटाने आैर इमारत के असुरक्षित हिस्से को ढहाया गया। डिपार्टमेंट स्टोर के संचालक व ग्राहक को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया, जबकि डिपार्टमेंट स्टोर के कर्मचारी का एमडीएमएच में उपचार चल रहा है। डाक्टरों ने बताया कि उसे ऑब्जरवेशन के लिए अस्पताल में रखा है, लेकिन वह पूरी तरह से स्वस्थ है। रेस्क्यू टीम ने नगर निगम, पुलिस, एसडीआरएफ, सिविल डिफेंस, जिला प्रशासन, डॉक्टर के साथ मेडिकल टीमों ने इस रेस्क्यू ऑपरेशन को संयुक्त रूप से अंजाम दिया।

मलबे में दबे तीन लोगों को सुरक्षित निकाला।

इधर, काम करते समय भवन की छीण ढही, दबने से एक की मौत, दो मजदूर घायल

जोधपुर | सरकारी स्कूल में पुरानी बिल्डिंग को गिराकर नई बिल्डिंग बनाने का काम करने के दौरान इमारत का कच्चा हिस्सा गिरने से एक श्रमिक की मौत हो गई, जबकि दो घायल हो गए। बासनी पुलिस थाना के एसआई रामभरोसी ने बताया, कि राजकीय बालिका प्राथमिक विद्यालय संजय कॉलोनी जर्जर अवस्था में होने के कारण गर्मी की छुट्टियों में बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर नई बिल्डिंग बनाने का काम स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के मार्फत शुरू हुआ। इस दौरान मंगलवार को स्कूल की छत पर लगी छीणें हटाने के लिए सुबह करीब दस बजे श्रवण सोलंकी (27) पुत्र मूलसिंह माली निवासी बासनी तंबोलिया अपने साथी किशन मेघवाल व भोमाराम भील निवासी माता का थान के साथ ऊपर चढ़े। कुछ मिनट काम करने के बाद छीणें नीचे गिराने लगे तो अचानक दो कमरों की इमारत नीचे गिर गई। इसमें तीनों छीणों के नीचे दब गए। हादसे में श्रवण की मौत हो गई। पुलिस ने एमडीएम अस्पताल से पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया। इधर घायल किशन को उपचार के बाद एम्स से छुट्टी दे दी गई, जबकि भोमाराम के सिर में चोट लगने के कारण एम्स में इलाज चल रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nagar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: भूखंड में बेसमेंट की खुदाई के दौरान ढही दो मंजिला इमारत: तीन जिंदगियां, मौत को हरा, मलबे से बाहर निकलीं
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Nagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×