Hindi News »Rajasthan »Nagour» छुटभैया कूंजड़ा गैंग के दो गुर्गों का सरेंडर, पुलिस का दावा- फार्म पर दबिश दे दबोचा

छुटभैया कूंजड़ा गैंग के दो गुर्गों का सरेंडर, पुलिस का दावा- फार्म पर दबिश दे दबोचा

छुटभैया इमरान कूंजड़ा गैंग के दो गुर्गों की गिरफ्तारी शनिवार को नाटकीय ढंग से हुई। पुलिस का दावा है कि नाथद्वारा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:50 AM IST

छुटभैया कूंजड़ा गैंग के दो गुर्गों का सरेंडर, पुलिस का दावा- फार्म पर दबिश दे दबोचा
छुटभैया इमरान कूंजड़ा गैंग के दो गुर्गों की गिरफ्तारी शनिवार को नाटकीय ढंग से हुई। पुलिस का दावा है कि नाथद्वारा में फौज मोहल्ला के सद्दाम उर्फ कांकरोली पुत्र छोटू खान और मल्लातलाई निवासी आदिल हुसैन पुत्र मोहम्मद यूसुफ को बूझड़ा से सटे जंगल से गिरफ्तार किया। दोनों फार्म हाउस में छिपे थे, जहां दबिश पर पुलिस को देख भागने लगे। इन्हें पीछा कर पकड़ा गया, जबकि प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि सद्दाम और आदिल ने भूपालपुरा में किसी वकील के घर में परिवार और पुलिस की मौजूदगी में सरेंडर किया। सवाल पर धानमंडी थानाधिकारी कैलाश बोरीवाल से कहा कि बूझड़ा में गिरफ्तारी के बाद दोनों को भूपालपुरा में किसी अन्य काम के लिए लेकर गए थे।

पुलिस की कहानी : फार्म पर टीम को दूर से देख जंगल में भाग गए थे दोनों

कुंजरवाड़ी स्थित पंचायती नोहरे में 27 मार्च को सद्दाम कांकरोली, मुजफ्फर उर्फ गोगा, इमरान कूंजड़ा, मोहम्मद हुसैन और आदिल हुसैन आए थे, जहां पर सद्दाम और आदिल ने रंजिश के चलते फायरिंग की थी। इसमें टेम्पो चालक महमूद और सब्जी व्यापारी सईद घायल हुए थे। ये इकबाल वाइपर को मारने के इरादे से आए थे। घटनाक्रम की गंभीरता देख एएसपी हर्ष र|ू के निर्देशन में धानमंडी थानाधिकारी कैलाश बोरीवाल, भूपालपुरा थानाधिकारी हरेंद्र सिंह सौदा, यातायात निरीक्षक गोवर्धन सिंह भाटी के साथ स्पेशल टास्क फोर्स के जवानों की टीमें बनाकर संभावित ठिकानों पर दबिश दी। टीमें राजनगर, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा भी गईं। सूचना मिली कि आरोपी नाई क्षेत्र में बूझड़ा फार्म हाउस में हैं। पुलिस पहुंची तो टीम को दूर से देख आरोपी अंधेरे में पहाड़ियों पर भागने लगे। पुलिस ने पीछा कर सद्दाम और आदिल को पकड़ लिया।

उदयपुर. पुलिस की गिरफ्त में कूंजड़ा गैंग का सद्दाम और आदिल।

पौन घंटे तक चला सरेंडर का घटनाक्रम

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि आदिल पहले वकील के घर चला गया था, जहां पर बारी-बारी से कुछ महिलाएं आईं। ये उसके परिवार से थीं। घर के बाहर पुलिस जाप्ता भी तैनात था। करीब पौन घंटे बाद महिलाएं निकलीं, जिनके पीछे सद्दाम था। पुलिस उसे अपने वाहन में थाने ले गई। इस घटनाक्रम के डेढ़ घंटे बाद पुलिस ने दोनों की गिरफ्तारी दिखाई।

थानाधिकारी कैलाश बोरीवाल से बातचीत

Q सद्दाम और आदिल को कहां से गिरफ्तार कियाω?

बोरीवाल : बूझड़ा स्थित फार्म हाउस में छिपे थे। दबिश देकर दोनों को गिरफ्तार किया है।

Q आदिल और सद्दाम ने तो भूपालपुरा क्षेत्र स्थित एक मकान में सरेंडर किया हैω?

बोरीवाल : नहीं, बूझड़ा से उन्हें पकड़कर लाए थे, लेकिन कुछ पर्सनल काम था, इसलिए भूपालपुरा लेकर गए।

Q इतने हार्डकोर आरोपियों के पर्सनल काम भी करती है पुलिसω?

बोरीवाल : नहीं, उन्हें कुछ काम था, इसलिए लेकर गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagour

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×