--Advertisement--

होळी फूलों की

क्योंकि इस बार नागौर में रंग से ज्यादा फूल बरसे भंडारियों की गली में निकली गैर । यह पहला मौका है जब धुलंडी से...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:00 AM IST
क्योंकि इस बार नागौर में रंग से ज्यादा फूल बरसे

भंडारियों की गली में निकली गैर । यह पहला मौका है जब धुलंडी से पहले गैर निकली।

लोगों से परिचितों, दोस्तों से रामाश्यामा किया।




जिले में खास



आज होली है...चारों तरफ रंग हैं...वैसी ही नागौर की रंग बिरंगी परंपराएं भी हैं।

आज से दो दिन हर चेहरे की पहचान बदल जाएगी। हर सूरत रंगीन होगी और हर दिल में रंगों सा ही उल्लास। शहर में होली के इन रंगों के साथ कुछ नए बदलाव भी दिखे हैं। इतिहास में नागौर काे नागीणा कहा जाता था। उसी नागीणा में रंगों के साथ इस बार फूलों से होली खेलते लोगों को देखा गया। स्कूलों में बच्चे तो शहर की गलियों में जवान व बूढ़ों तथा महिलाओं ने रंगों से ज्यादा फूल बरसाए। पहली बार ऐसा भी हुआ कि धुलंडी से पहले शहर में गैर निकली।

शिव ने पार्वती से, कान्हा ने राधा से खेली फूलों की होली, गैर निकली वहां भी पुष्पों की बारिश


बच्चे बने शिव, गणेश, पार्वती

फूल बरसाए, उल्लास जगाया


खुशियां छुटि्टयों की, होली फूलों की