Hindi News »Rajasthan »Nagour» बंद को सफल बनाने का आह्वान, निकाली वाहन रैली

बंद को सफल बनाने का आह्वान, निकाली वाहन रैली

एससीएसटी एक्ट में किए गए बदलाव को लेकर विभिन्न संगठनों की ओर से किए जा रहे बंद के आयोजन को लेकर नागौर में भी युवाओं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 05:45 AM IST

एससीएसटी एक्ट में किए गए बदलाव को लेकर विभिन्न संगठनों की ओर से किए जा रहे बंद के आयोजन को लेकर नागौर में भी युवाओं ने रैली निकाली और बंद का आह्वान किया। इस मौके पर भीमसेना की ओर से वाहन रैली निकाली गई। संगठन की ओर से जनसंपर्क भी किया गया। इसी प्रकार राजस्थान प्रदेश सफाई मजदूर संघ की बैठक वाल्मिकि बस्ती में प्रदेश महासचिव राजकुमार जावा के मुख्य आतिथ्य में हुई। बैठक की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष रतनलाल बारासा ने की। बैठक में हरिभजन जावा, श्यामसुंदर जावा, कानाराम, जयनारायण, फूलचंद, दीपक चांवरिया, केवलराम आदि मौजूद थे। बैठक में बंद के लिए सुबह 8 बजे लक्ष्मीतारा हॉल से रैली शुरू होकर दिल्ली दरवाजा, गांधी चौक, कलेक्ट्रेट पहुंच कर ज्ञापन दिया जाएगा। इसी तरह लोक जन शक्ति पार्टी के जिलाध्यक्ष धर्माराम चांगल ने बताया कि वाल्मिकी बस्ती में पार्टी के साथ भीमसेना, अल्पसंख्यक समुदाय की बंद को लेकर बैठक हुई। बैठक में कमल हसन, नायक समाज महासभा के सुखाराम नायक, भीमसेना जिलाध्यक्ष अजय वाल्मिकी, टीकमचंद जयदेव, मोती मेघवाल, नरेश आदि मौजूद थे। वहीं भारतीय दलित साहित्य अकादमी ने भारत बंद का निर्णय लेते हुए बंद को सफल बनाने की अपील की है। अकादमी के भीखाराम मेघवाल ने बताया कि दलित वर्ग के कर्मचारियों से अपील की है कि बंद के दौरान 2 अप्रैल को सामूहिक अवकाश पर रहकर नागौर बंद में सहयोग करे।

खींवसर| अनुसूचित जाति जन जाति द्वारा भारत बंद काे लेकर पांचोड़ी में बहुजन दल की बैठक हुई। बैठक में नागौर बंद को सफल बनाने को लेकर रणनीति तैयार की। भीम सेना अध्यक्ष दिनेश मेघवंशी ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार अधिनियम के प्रावधानों में आरोपी को अग्रिम जमानत कराने और जांच के बाद ही करवाई के आदेश के खिलाफ देश भर में शुरू हुई है। हमें अनुसूचित जाति जनजाति एवं अम्बेडकर वादी संगठनों के विरोध आंदोलन की कड़ी में नागौर में अनुसूचित जाति जनजाति एवं अम्बेडकर वादी संगठनों के पदाधिकारियों ने बताया कि सरकारी स्तर पर लापरवाही के चलते दलितों पर अत्याचार बढ़ रहे हैं। इस मौके पर मदनलाल, भंवरलाल, भूराराम, भोमाराम, तेजाराम, भंवरलाल, दिनेश आदि मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagour

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×