• Home
  • Rajasthan News
  • Nagour News
  • आखातीज पर होने वाले माली समाज के विवाह सम्मेलन के लिए मंडप निर्माण शुरू
--Advertisement--

आखातीज पर होने वाले माली समाज के विवाह सम्मेलन के लिए मंडप निर्माण शुरू

सैनिक क्षत्रिय माली समाज के आखा तीज 18 अप्रेल को होने वाले विशाल सामूहिक विवाह सम्मेलन के लिए विशाल मंडप (डोम) बनाने...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 05:45 AM IST
सैनिक क्षत्रिय माली समाज के आखा तीज 18 अप्रेल को होने वाले विशाल सामूहिक विवाह सम्मेलन के लिए विशाल मंडप (डोम) बनाने का कार्य प्रारम्भ हो गया है। माली समाज के रामेश्वर पंवार के अनुसार भूमि पूजन के साथ इस आयोजन के निमित्त मंडप बनाने का काम शुरू हो गया। इस आयोजन में 4 विशाल मंडप बनेंगे। जिनमें सत्संग, विवाह संस्कार, भोजनशाला व वरमाला के लिए अलग अलग मंडप होंगे। इस अवसर पर माली संस्थान के अध्यक्ष रामस्वरूप पंवार, नगर परिषद के सभापति कृपाराम सोलंकी, भामाशाह रामस्वरूप कच्छवाह, कमल भाटी आदि मौजूद थे।

इस दौरान संस्थान कार्यालय में एक बैठक संपन्न हुई। बैठक में संस्थान अध्यक्ष, सहसचिव देवकिशन भाटी, कोषाध्यक्ष टीकमचन्द कच्छवाह, सदस्य रामबक्ष सांखला, रामपाल कच्छवाह, देवकिशन सोलंकी, मेहराम सांखला तथा कृपाराम गहलोत, मुन्नालाल पंवार, शंकरलाल परिहार, रामदयाल सोलंकी, सुरेश सोलंकी, राधेश्याम टाक, बजरंग सांखला, बाबूलाल भाटी, रूपचन्द टाक, शंकरलाल टाक, कुनाराम सांखला, दीपक गहलोत, जगदीश भाटी, राजेश सांखला मौजूद थे। समाज अध्यक्ष ने आयोजन की अबतक की प्रगति से अवगत कराया और मौहल्ले अनुसार निमंत्रण पत्र समाज के सभी बंधुओं को पहुंचाने का आग्रह किया। बैठक में निकासी संस्थान भवन से राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय के समीपस्थ मैदान तक किए जाने का निर्णय लिया गया।

महात्मा ज्योतिबा फूले की जयंती 11 अप्रैल को मनाने का लिया निर्णय

बैठक में माली समाज के लोगों से डांडिया में निर्धारित वेश में अधिकतम संख्या में भाग लेने का आग्रह किया गया। बैठक में 11 अप्रेल को महात्मा ज्योतिबा फूले की जयंती हनुमान बाग स्थित फूले पार्क में मनाने के लिए अधिकतम उपस्थिति में सहभागी बनने का आग्रह किया गया। संस्थान के सदस्य रमेश सोलंकी ने बताया कि जयपुर में संपन्न हुए माली सैनी महासभा के जनप्रतिनिधि सम्मेलन में नागौर से पूर्व प्रधान आईदानराम भाटी, उपाध्यक्ष रामजस भाटी, बलदेव कच्छवाह, राजेन्द्र पंवार ने भी हिस्सा लिया। इन पदाधिकारियों ने आखा तीज को होने वाले सामूहिक विवाह के लिए प्रदेश अधिकारियों को निमंत्रण पत्र दिए।