• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagour
  • परबतसर में दुकानों के ताले तोड़े, 10 लाख के मोबाइल-गहने चोरी, लोग बोले:गश्त नहीं होती
--Advertisement--

परबतसर में दुकानों के ताले तोड़े, 10 लाख के मोबाइल-गहने चोरी, लोग बोले:गश्त नहीं होती

परबतसर में चोरी की वारदात लगातार बढ़ रही हैं। सात दिन पहले हुई वारदात का अभी तक पुलिस खुलासा नहीं कर पाई है। अब दो...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:00 AM IST
परबतसर में दुकानों के ताले तोड़े, 10 लाख के मोबाइल-गहने चोरी, लोग बोले:गश्त नहीं होती
परबतसर में चोरी की वारदात लगातार बढ़ रही हैं। सात दिन पहले हुई वारदात का अभी तक पुलिस खुलासा नहीं कर पाई है। अब दो बाइक पर आए चोरों ने बुधवार रात 2 बजे चार दुकानों पर वारदात का प्रयास किया। इनमें से 2 दुकानों में वे सफल नहीं हुए, जबकि ज्वैलरी की दुकान से 8 लाख के गहने व इलेक्ट्रिक दुकान से 2.10 लाख रुपए के मोबाइल चुराकर ले जाने में सफल हो गए। परबतसर में लगातार सात दिन में यह चोरी की दूसरी घटना है। पुलिस दावा कर रही है कि हम निरंतर गश्त कर रहे हैं, जबकि लोगों का कहना है कि गश्त नहीं हो रही।

बस स्टैंड गांधी चौक क्षेत्र में गुरुवार सुबह विकास वैष्णव की मोबाइल की दुकान व कृष्णकुमार सोनी की ज्वैलरी की दुकान के ताले टूटे व शटर ऊंचे देखे तो शहर में चोरी की वारदात का खुलासा हुआ। दोनों दुकान मालिक मौके पर पहुंचे। सीसीटीवी फुटेज देखने पर खुलासा हुआ कि चोरों ने बुधवार रात करीब 2 बजे वारदात को अंजाम दिया। दुकानदार विकास ने बताया कि उसकी दुकान से 2.10 लाख रुपए के मोबाइल चोरी हो गए हैं। इसी प्रकार ज्वैलर्स कृष्ण कुमार सोनी ने रिपोर्ट दी कि उसकी दुकान से करीब 8 लाख रुपए के सोने चांदी के जेवरात चोरी हो गए हैं। शहर के पार्षद व लोग विधायक मानसिंह किनसरिया के पास जनसुनवाई में पहुंचे। उन्होंने परबतसर में बढ़ रही चोरी की वारदातों व पुलिस की गश्त नहीं होने पर नाराजगी जताई।

बुधवार रात दो बजे

परबतसर. सीसीटीवी फुटेज में नजर आए दो चोर, इनमें से एक युवक का चेहरा साफ नजर आ रहा है।

गुरुवार रात 11 बजे: 21 घंटे में पुलिस को यह भी नहीं पता कि चोर स्थानीय या बाहरी

कमजोर तंत्र- परबतसर में चोरी की वारदात के बाद पुलिस सिर्फ सीसीटीवी कैमरों में मिले फुटेज के भरोसे ही है। मुखबिरी तंत्र मजबूत नहीं होने की वजह से यह भी पता नहीं चल पाया है कि चोर स्थानीय थे या बाहरी। दुकानदार विकास वैष्णव ने बताया कि हमने अपने स्तर पर वीडियो फुटेज पुलिस को दे दिए हैं। यहां से मेगा हाइवे भी निकल रहा है। उधर पुलिस अभी तक कहने की स्थिति में नहीं है कि बाहर से भी अपराधी आकर यहां वारदात कर रहे हैं या चोर स्थानीय है।




माल भरा देख खुशी, हंसते-हंसते चोरी

जिले में: रोल व नागौर के बाद परबतसर में चोरों के हौसले बुलंद है। यहां नागौर में 2 दिन पहले ही एक निजी शिक्षक के घर दूसरी बार वारदात हुई। पुलिस ने यहां मुकदमा तो दर्ज कर लिया, मगर तीन दिन में कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी प्रकार दो सप्ताह पहले रोल में भी एक दुकान में चोरी की वारदात हुई। सीसीटीवी फुटेज में भी आरोपी दिखे। इसके बावजूद पुलिस ने संदिग्धों से पूछताछ करने की बजाय मामले में ढील दे दी। अब परबतसर में हुई वारदात के बाद पुलिस की शैली पर लोगों ने सवाल खड़े कर दिए हैं।


X
परबतसर में दुकानों के ताले तोड़े, 10 लाख के मोबाइल-गहने चोरी, लोग बोले:गश्त नहीं होती
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..