Hindi News »Rajasthan »Nagour» वनमंत्री गजेंद्र सिंह ने खींवसर में सुनी लोगों की समस्याएं, कहा- कचरा निस्तारण का बनेगा डिस्पोजल

वनमंत्री गजेंद्र सिंह ने खींवसर में सुनी लोगों की समस्याएं, कहा- कचरा निस्तारण का बनेगा डिस्पोजल सिस्टम

खींवसर के अटल सेवा केन्द्र पर बुधवार को पर्यावरण वनमंत्री गजेन्द्रसिंह खींवसर ने अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:15 PM IST

खींवसर के अटल सेवा केन्द्र पर बुधवार को पर्यावरण वनमंत्री गजेन्द्रसिंह खींवसर ने अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की बैठक ली। बैठक में वन पर्यावरण मंत्री ने कहा कि खींवसर कस्बे में कचरा व गंदगी की बड़ी समस्याएं है। कचरा निस्तारण डिस्पोजल सिस्टम तैयार करना होगा।

पीएचईडी के एक्सईएन जेके चारण से खींवसर के ढाणियों में मीठे पानी के लिए द्वितीय प्रोपोजल के बारे में जानकारी ली। चारण ने बताया कि नागौर व खींवसर की 1300 ढाणियों के लिए नहरी पानी पहुंचाने के लिए कम्पनी द्वारा डीपीआर तैयार की जा रही है। आकला ग्राम पंचायत के पूर्व उपसरपंच हनुमानसिंह राठौड़ ने मंत्री को बताया कि आकला में नहरी विभाग के दो प्वांइट लगे हुए हैं। लेकिन दोनों प्वांइटों में पिछले एक साल से पानी नहीं आ रहा है। भावण्डा सरपंच भोमसिंह राठौड़ ने गांव में मीठे पानी व चिकित्सा की गम्भीर समस्या बताई। इस मौके पर जिला कलेक्टर कुमारपाल गौतम, भाजपा मंडल अध्यक्ष शंकरलाल चांडक, उपखण्ड अधिकारी इन्द्रजीत, सीएमएचओ डॉक्टर सुकुमार कश्यप, जलदाय विभाग के सहायक रणजीत शर्मा, तहसीलदार रामस्वरूप, सरपंच प्रतिनिधि सीताराम भाटी, डिस्कॉम के सहायक अभियन्ता मनोज बंसल, पशु पालन प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष नरेश कुमार भाटी, भेङ सरपंच प्रतिनिधि सुरेश लेगा, चावंडिया सरपंच प्रतिनिधि हजारीराम विश्नोई, भाजपा जिला प्रवक्ता अमित शर्मा, मनरेगा कार्मिक संघ के ब्लाॅक अध्यक्ष गोरखाराम गुजर, उपसरपंच प्रतिनिधि गेनाराम भादू, वार्ड पंच घनश्याम देवड़ा सहित कई अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

बैठक

खींवसर के अटल सेवा केंद्र पर ली अधिकारियों की बैठक, कलेक्टर भी रहे मौजूद

खींवसर. अटल सेवा केन्द्र पर पर्यावरण व वनमंत्री ने ली अधिकारियों की बैठक

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagour

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×